समाचार

योगी 2.0: सपा विधायक के घर बंधक बनाए गए ब्लॉक प्रमुख को छुड़ाया, एकसाथ 8 थाने की पुलिस ने की रेड

यूपी में योगी आदित्यनाथ की दोबारा ताजपोशी 25 मार्च को होनी है, लेकिन चुनाव परिणाण के नतीजों के आने के साथ ही यूपी पुलिस मुस्तैदी दिखा रही है। अपराधी चाहे जितना बड़ा क्यों ना हो उसपर कार्रवाई करने में पुलिस चूक नहीं रही है। यूपी के बस्ती जिले के सदर सीट से सपा विधायक और सपा जिलाध्यक्ष महेंद्र नाथ यादव  के खिलाफ भी पुलिस ने सख्त एक्शन लिया है।

विधायक के घर पुलिस की रेड

सपा विधायक के घर पर पुलिस और प्रशासन ने 8 थानों की पुलिस फोर्स के साथ छापेमारी की। इतनी संख्या में दोनों के घर पर पुलिस बल देख जिले में हड़कंप मच गया है। सपा विधायक महेंद्र यादव पर आरोप था कि उन्होंने बहादुरपुर ब्लॉक के प्रमुख रामकुमार  का अपहरण किया है और घऱ में बंधक बना कर रखा है। पुलिस ने उनके घर से ब्लॉक प्रमुख, उनकी पत्नी और बच्चों को सुरक्षित बरामद कर लिया है।

आपको बता दें कि ब्लॉक प्रमुख चुनाव के बाद जिले के लोग तब हैरान रह गए थे जब उन्हें पता चला कि ब्लाक प्रमुख राजकुमार ने पाला बदलते हुए बीजेपी (BJP) छोड़कर सपा (SP) का दामन थाम लिया है।

ब्लॉक प्रमुख के परिजनों ने दी तहरीर

इस मामले में कलवारी थाने में सपा विधायक महेंद्र नाथ यादव के खिलाफ ब्लॉक प्रमुख के परिजन ने तहरीर दी थी। पुलिस ने इस पर कार्रवाई शुरू की तो एसपी विधायक के घर पर रामकुमार की लोकेशन मिली, जिसके बाद उन्हें छुड़ाने के लिए फौरन पुलिस की कई टीम देर रात विधायक के घर पहुंच गई। इसके बाद विधायक महेंद्र यादव को बहादुरपुर ब्लॉक प्रमुख रामकुमार को पुलिस को सौंपना पड़ा। पुलिस टीम ने ब्लॉक प्रमुख रामकुमार, उनकी पत्नी और 4 छोटे बच्चों को सपा विधायक के घर से अपने साथ ले गई।


5 महीने से बंधक बनाए रखने का आरोप

सपा विधायक महेंद्र यादव के घर में पिछले 5 महीने से प्रमुख परिवार के साथ बंधक बने हुए थे, जिन्हें पुलिस ने छुड़ाया। रामकुमार किसी तरह से मोबाइल हासिल करने के बाद अपने साले से मदद मांगी, जिसके बाद रामकुमार के साले ने कलवारी थाने में तहरीर दी। वहीं बहादुरपुर ब्लॉक प्रमुख से जब मीडिया ने सवाल पूंछा तो पहले उन्होंने कहा कि परिवार वालों की प्रताड़ना से वह यहां रह रहे थे, लेकिन उसके बाद उन्होंने फिर सच्चाई बताया और उन्हें जबरन अपहरण कर रखने का आरोप लगाया।

एमएलसी चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा

पांच महीने पहले बहादुरपुर ब्लॉक प्रमुख राजकुमार ने पाला बदलते हुए सपा का दामन थाम लिया था, ये पूरा घटना क्रम एमएलसी चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है। बस्ती जिले के कलवारी थाने में बस्ती सदर से सपा विधायक महेंद्रनाथ यादव पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 365 और 342 के तहत मुकदमा दर्ज किया। ब्लॉक प्रमुख के परिजन ओम प्रकाश ने थाने में तहरीर देकर अपने जीजा के अपहरण का आरोप लगाया, जिसके बाद कई थानों की पुलिस सपा विधायक के घर पर छापेमारी करने पहुंच गई। पुलिस ने ब्लॉक प्रमुख को सपा विधायक के घर से बरामद कर अपने साथ ले गई। एसपी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि तहरीर के आधार पर सपा विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, मामले की जांच की जा रही है।

Back to top button