समाचार

इश्क में पहले पति-बच्चों को छोड़ा, फिर ब्यॉयफ्रेंड के लिए बन गई ‘लेडी डॉन’, बेहिचक चलाती है गोली

पटना में जब पुलिस ने एक दुकान में की गई गई जबरदस्त फायरिंग के मामले में एक महिला को पकड़ा तो उससे जो खुलासा हुआ वो बेहद चौंकाने वाला है। पुलिस को पता चला ये महिला शादीशुदा है और उसके बच्चे भी हैं और वह अपने प्रेमी के लिए पति-बच्चों को छोड़कर चली आई और फिर प्रेमी के कहने पर अपराध की दुनिया में आई और लेडी डॉन बन गई।

कहावत है कि प्यार और जंग में सब जायज है। बिहार के पटना में एक महिला ने इस कहावत को चरितार्थ कर दिया। दरअसल, पटना पुलिस ने एक ऐसी शादीशुदा महिला (नगमा) को गिरफ्तार किया है, जिसने अपने पति और बच्चे को छोड़ एक शख्स के प्यार में ‘लेडी डॉन’ बन गई। पहले तो नगमा, पति और बच्चे को छोड़ राहुल नाम के प्रेमी के साथ भाग गई। इसके बाद प्रेमी के कहने पर वो उसके लिए आपराधिक वारदातों में शामिल हो गई। लेकिन पुलिस ने उसे दबोच लिया।

 ऐसे हुआ लेडी डॉन का पर्दाफाश

‘न्यूज18’ की रिपोर्ट के अनुसार, कुछ दिन पहले पटना में गर्दनीबाग थाना क्षेत्र के अनिशाबाद मोड़ पर एक मोबाइल दुकान में लूट के मकसद से गुंडों ने गोलीबारी की थी। इस गोलीबारी में ये लेडी डॉन भी शामिल थी और ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं थी।

वारदात की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई थी, जिसकी जांच के बाद पुलिस ने राहुल और नगमा को गिरफ्तार कर लिया। जब पुलिस ने दोनों से पूछताछ की तो एक हैरान करने वाली कहानी सामने आई।

 ऐसे बनी लेडी डॉन

पूछताछ में पता चला कि राहुल और नगमा पहले लवर्स थे, जिसके बाद उन्होंने शादी कर ली। असल में, पटना के चितकोहरा का रहने वाला राहुल लोगों की सुपारी लेता है और हथियारों की तस्करी भी करता है। साल 2015 में विक्रम नामक युवक की हत्या के मामले में वो लगभग 5 साल तक छपरा जेल में बंद रहा। इस दौरान उसकी प्रेमिका नगमा गिरोह की कमान संभाल रही थी। वो लगातार जेल में बंद राहुल के कॉन्टेक्ट में थी, और उसके बताए पतों पर हथियारों की सप्लाई करवाती थी।

राहुल ने पुलिस को बताया कि उसे सोनू नाम के शख्स ने मोबाइल की दुकान में काम करने वाले एक शख्स की सुपारी दी थी। हत्या के मकसद से ही उन्होंने दुकान में फायरिंग की थी और उस युवक को गोली मार दी थी। हालांकि, इश्क की शुरुआत में राहुल को पता नहीं था कि नगमा शादीशुदा है और एक बच्चे की मां है। घर से नगमा को भगाने के बाद राहुल ने उसे गायघाट इलाके में किराए के एक मकान में रखा था। 1 महीने पहले ही राहुल को जमानत मिली है और बाहर आते ही उसने नगमा से शादी कर ली।

Back to top button