राजनीति

IPS से विधायक बने असीम अरुण ने पेश की सराहनीय मिसाल: हारे हुए प्रत्याशी के घर जा कर लिया आशीर्वाद

IPS की नौकरी छोड़कर यूपी के कन्नौज से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ने और फिर जीत हासिल करने वाले असीम अरुण ने सराहनीय मिसाल पेश की है। असीम अरुण उस उम्मीदवार के घर खुद पहुंचे जिन्हें उन्होंने हराया है। असीम अरुण ने उनसे आशीर्वाद लिया और कन्नौज के विकास के लिए मिलकर काम करने का संकल्प लिया।

असीम अरुण ने पेश की मिसाल

बीजेपी ने फिर से प्रदेश में वापसी की है। इसी बीच जीत के बाद बीजेपी के उम्मीदवार और पूर्व आईपीएम असीम अरुण चर्चा में हैं। कन्नौज सदर सीट से चुनाव जीतने वाले असीम अरुण ने अपनी जीत के बाद अपने ही सामने खड़े होने वाले सपा प्रत्याशी और कन्नौज सदर सीट से तीन बार के विधायक रहने वाले अनिल दोहरे का आशीर्वाद लिया है। असीम अरुण ने जीत के बाद अनिल दोहरे के घर जाकर मुलाकात की है और उनसे आशीर्वाद भी लिया।

ऐसे ही बदलेगा राजनीति का चेहरा

इसके साथ ही कन्नौज सदर सीट से जीत दर्ज करने वाले पूर्व आईपीएस असीम अरुण ने अपने ट्विटर पर दोहरे के साथ फोटो भी शेयर की। इस फोटो को शेयर करते हुए असीम अरुण ने लिखा- आदरणीय बड़े भाई श्री अनिल दोहरे जी से आज शाम उनसे उनके घर पर आशीर्वाद प्राप्त किया।

अनिल भाई के विरुद्ध चुनाव में प्रतिभाग करना बहुत कठिन कार्य था। आपका पंद्रह वर्षों का विस्तृत अनुभव रहा है एवं साथ मिल कर विकास कार्य करने पर सहमति बनी। असीम अरुण की हुई इस मुलाकात की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ की जा रही है।


अगर कन्नौज सदर सीट पर हुए चुनाव के रिजल्ट की बता करें तो इस सीट पर बड़ा कड़ा मुकाबला रहा। पुलिस कमिश्नर का पद छोड़कर बीजेपी के टिकट पर लड़ने वाले असीम अरुण को 120876 वोट मिले। वहीं इनके सामने खड़े सपा के अनिल दोहरे को 114786  वोट मिले। इस तरह से कन्नौज सदर सीट से 6090 वोटों से जीत दर्ज कर असीम अरुण ने जीत की हैट्रिक लगाने वाले सपा उम्मीदवार को हरा दिया।

Back to top button