दिलचस्प

ये है दुनिया का सबसे ख़तरनाक खेल, जिसमें 50वें टास्क में खिलाड़ी को करनी होती है खुदकुशी

मुंबई – देश में किसी गेम के कारण खुदखुशी करने का पहला मामला सामने आये है। इंटरनेट गेम ‘ब्लू वेल’ बच्चों के लिए जानलेवा बनता जा रहा है। ताजा मामले में मुंबई में एक 14 साल के एक स्कूली छात्र ने गेम को पूरा करने के लिए छत से कुदकर जान दे दी। अंधेरी ईस्ट में रहने वाले इस लड़के ने शनिवार को सातवीं मंजिल से छलांग लगा दी। Blue whale game suicide.

क्या है ‘द ब्लू व्हेल गेम’  

‘द ब्लू व्हेल गेम’ या ‘द ब्लू व्हेल चैलेंज’ रूस में बना एक इंटरनेट गेम है, जिसमें प्लेयर को इंटरनेट पर किसी अंजान मास्टर के जरिए गेम को पूरा करने के लिए यूजर को 50 दिन तक कुछ खास टास्क दिये जाते हैं। एक-एक कर सारे टास्क पूरे करते रहने पर गेम के आखिरी टॉस्क में सुसाइड के लिए उकसाया जाता है। साथ ही हर टास्क पूरा होने के साथ प्लेयर को अपने हाथ पर एक कट लगाने के लिए कहा जाता है। जो 49 वें टॉस्क के पूरा होने तक व्हेल की आकृति के जैसी होती है।

क्या हैं गेम के 50 टास्क  

‘द ब्लू व्हेल गेम’ में 50 दिनों के लिए टास्क दिये जाते हैं। हर टास्क को पूरा करने पर हाथ पर एक कट करने के लिए कहा जाता है, जो आखिरी में व्हेल की आकृति बन जाता है। इसके एक टास्क में हाथ पर ब्लेड से एफ-57 बनाकर फोटो भेजने को कहा जाता है। दुसरे टास्क में सुबह 4.20 बजे उठकर हॉरर वीडियो या फिल्म देखने के लिए कहा जाता है। हाथ की 3 नसों को काटकर उसकी फोटो क्यूरेटर को भेजना भी इसका एक टास्क है। इस तरह के टास्क के 49 स्टेप पूरे करने के बाद 50वें दिन प्लेयर को छत से कूदकर खुदकुशी कर इस गेम का विजेता बनना होता है।

अमेरिका-पाकिस्तान सहित 19 देशों में 200 खुदकुशी

‘ब्लू व्हेल चैलेंज गेम’ कितना खतरनाक है इसका अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि इसे खेलने वाले लोगों में अबतक दुनियाभर में करीब 200 से ज्यादा लोगों ने खुदखुशी कर ली है। जिसमें भी इस गेम को खेला और 50 वें टॉस्क को पूरा करने की कोशिश की उसने अपनी जान गंवा दी। अकेले रूस में ही इस गेम के कारण 130 मौतों ने आत्महत्या कि है। अमेरिका और पाकिस्तान समेत दुनिया के 19 देशों में इस गेम की वजह से खुदकुशी करने या के सैकड़ों मामले आ चुके हैं।

Related Articles

Close