समाचार

सिंबा को क्यों दी गई 3 बंदूक की सलामी, इस ‘हीरो’ की अंतिम विदाई का वीडियो भावुक कर देगा

इंसान, पुश, पक्षी, वृक्ष, पौधे आदि जीव जगत के ये सभी सदस्य एक दूसरे से जैविक चक्र से जुड़े होते हैं। लेकिन कभी-कभी इनका आपसी लगाव जब उभर कर सामने आता है तो लोगों को भावुक कर जाता है। फिर डॉगी जो इंसान का सबसे वफादार पालतू जानवर होता है उसकी कोई बात हो तो इंसान की आंख से आंसू भी निकल आते हैं।
डॉग्स की अलग-अलग नस्लें हमारे सुरक्षा बलों का भी हिस्सा हैं। ये हमारी सुरक्षा के लिए खतरनाक परिस्थितियों का मुकाबला भी करते हैं। हाल ही, एक ऐसे हीरो ने दुनिया को जब अलविदा कहा, तो पुलिस सहित सोशल मीडिया पर लोगों ने उसे दिल से सैल्यूट किया।

3 बंदूक की सलामी दी गई

सिम्बा  सिर्फ एक लेब्रा डॉग (Labrador) नहीं था, बल्कि मुंबई पुलिस की बम डिटेक्शन एंड डिस्पोजल यूनिट (BDDS) का अहम सदस्य था। हाल ही, बीमारी के कारण इस बहादुर कुत्ते का निधन हो गया। उसकी उम्र 9 साल थी। वो विशेष रूप से विस्फोटक का पता लगाने के लिए ट्रेंड था, और वीवीआईपी और वीआईपी बंदोबस्त के लिए काम किया था। साल 2013 से सिम्बा बम निरोधक दस्ते का हिस्सा था।

अंतिम संस्कार का वीडियो भावुक कर देगा

अभिषेक जोशी नाम के ट्विटर यूजर ने सिम्बा की तस्वीर शेयर की। सिम्बा एक बम डिटेक्शन डॉग था, जिसे सम्मान के साथ विदा किया गया। मुंबई के परेल स्थित वेटेरनरी अस्पताल में उसे तीन गन सैल्यूट के साथ अंतिम विदाई दी गई। आखिर में उन्होंने सिम्बा की सेवाओं के लिए उसका धन्यवाद कहा। खुशबू एस नाम की ट्विटर यूजर ने सिंबा के अंतिम संस्कार का वीडियो शेयर किया है।

कुत्ते सिर्फ हमारे बेस्ट फ्रेंड नहीं होते, वो तो हमारे अवसाद और अकेलेपन को भी दूर करने की वजह भी बनते हैं। हमें स्पेशल फील कराते हैं। उनका हमारे स्वागत में बिछ जाना किसी जादू से कम नहीं होता है। सिंबा ने भी अपना पूरा जीवन मानव की सेवा में लगा दिया, अब सोशल मीडिया पर लोग इस बहादुर डॉग को सैल्यूट कर रहे हैं।

Back to top button