जम्मू कश्मीर में सेना ने उड़ाए आतंकियों के छक्के, कार्यवाई में ढेर हुआ लश्कर का मशहूर आतंकी अबु दुजाना!

श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर की शांति आतंकियों ने आज से नहीं बल्कि कई साल पहले से ही भंग कर रखी है। आज वहाँ ऐसी हालत है कि हर कोई खौफ के साए में जीता है। किसी को पता नहीं होता है कि कब उनकी मौत हो जाए। आये दिन आतंकी जम्मू एवं कश्मीर के किसी ना किसी इलाके में हमले करते रहते हैं। आतंकियों के इस हमले में कई बेगुनाह लोग भी मारे जाते हैं। top lashkar terrorist abu dujana killed in kashmir.

सेना के लिए है यह बड़ी सफलता:

हालांकि सेना आतंकियों से टक्कर लेने के लिए तैनात रहती है। लेकिन का बार सेना नाकामयाब भी हो जाती है ऐसे में बेगुनाह लोगों के साथ-साथ सेना के जवानों को भी अपनी जान गंवानी पड़ती है। अब भारतीय सेना आतंकियों से काफी सजग रहती है। पहले की तुलना में अब आतंकी हमलों में कम सैनिक मारे जाते हैं। अब सेना के जवान आतंकियों को ढूंढ-ढूंढकर खोज रहे हैं और उन्हें मार रहे हैं।

इसी क्रम में कश्मीर के पुलवामा जिले सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच जमकर मुठभेड़ जारी है। सूत्रों के अनुसार पुलवामा के हाकरीपोरा गाँव में सुबह चार बजे से ही आतंकियों से टक्कर ली है। खबर के अनुसार अब तक सेना ने लश्कर के कमांडर अबु दुजाना सहित दो आतंकियों को ढेर कर दिया है। पिछले कई दिनों में सेना के लिए यह एक बड़ी सफलता है। इससे आतंकियों को काफी गहरा धक्का लगा है।

सुरक्षाबलों की तरफ से था 8 लाख का इनाम:

बताया जा रहा है कि अबु दुजाना जम्मू कश्मीर का लश्कर कमांडर था। आतंकवाद की दुनिया में वह पिछले 7 सालों से काफी सक्रिय था। दुजाना पर सेना की तरफ से 8 लाख रूपये का इनाम था। इस एनकाउंटर की पुष्टि करते हुए कश्मीर के डीजीपी ने बताया कि अबु दुजाना और आरिफ ललहारी उस घर में एक साथ मौजूद थे। उन्होंने आगे कहा कि फिलहाल अन्य आतंकियों की खोज की जा रही है।

इस घटना के बाद से ही पुरे इलाके को हाई अलर्ट पर रखा गया है। सुरक्षा के लिहाज से घाटी में इन्टरनेट के इस्तेमाल पर पाबन्दी लगा दी गयी है। सूत्रों से पता चला है कि जिस घर में आतंकियों के होने की सूचना मिली थी, सेना ने उस घर में आग लगा दी थी। आग बुझाने के बाद सेना ने घर में घुसकर बॉडी निकाली, उसी के बाद अबु दुजाना के मारे जाने की पुष्टि की गयी है।