विशेष

लायें मिट्टी से बने इन चीजों को अपने घर, जीवन में नहीं होगी कभी धन की कमी

आज के समय में पैसे का क्या मूल्य है, किसी को कुछ बताने की जरुरत नहीं है। आज के समय में लोगों की अच्छाई उनके धन-दौलत ने नापी जाती है। ऐसे में कौन व्यक्ति निर्धन रहना चाहता है। सभी लोगों की चाहत होती है कि उनके पास बेशुमार पैसा हो। इसके लिए वह जी-जान से मेहनत भी करते हैं। लेकिन सभी लोगों की मेहनत रंग नहीं लाती है। कुछ लोगों के पास काफी धन-दौलत होता है, जबकि कुछ लोग पूरी जिंदगी इसके लिए तरसते रहते हैं।

धर्मग्रंथों में मिलता है मिट्टी की महिमा का गुणगान:

मिट्टी मानव के लिए बहुत उपयोगी है। इंसान का जन्म इसी मिट्टी से हुआ है और एक दिन इसी मिट्टी में उसे मिल जाना है। मिट्टी प्रकृति का दिया हुआ सबसे ख़ास तोहफा है। वास्तुशास्त्र के अनुसार इसके प्रयोग से व्यक्ति को सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। हिन्दू धर्म ग्रंथों और ज्योतिषशास्त्र में भी मिट्टी की महिमा का गुणगान मिलता है। ऐसा माना जाता है कि अगर घर में मिट्टी के बर्तन रखें जाएँ तो बुध और चंद्रमा शुभ प्रभाव देते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे मिट्टी के उपाय बताने जा रहे हैं, जिससे आपके घर में कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

करें मिट्टी के बर्तन का यह उपाय:

*- यह बात सत्य है कि जो लोग मिट्टी के घड़े से प्रतिदिन पानी पीते हैं, वह स्वस्थ रहते हैं। साथ ही घर में सकारात्मक उर्जा का प्रवाह बना रहता है।
*- घर के मंदिर में मिट्टी से बने देवी-देवताओं की प्रतिमा रखनी चाहिए। ऐसा माना जाता है कि मिट्टी की प्रतिमा रखने से अनचाहे संकटों से मुक्ति मिलती है और धन का भण्डार हमेशा भरा रहता है।

*- घर की नकारात्मकता को दूर करने के लिए घर के दक्षिणी-पूर्व दिशा में मिट्टी से बना हुआ कोई पक्षी रखें।

*- प्रतिदिन घर में गाय के घी का मिट्टी से बना हुआ दीपक जलाएं। इससे देवी-देवताओं की कृपादृष्टि आपके ऊपर हमेशा बनी रहती है।

*- अगर आपके वैवाहिक जीवन में समस्याएँ उत्पन्न हो रही हैं तो घर में तुलसी का पौधा लगायें। हर रोज तुलसी के पौधे के निकट मिट्टी का दिया जलाएं।

*- अगर कोई भी त्यौहार पड़ रहा हो तो उस समय घर में मिट्टी से बना हुआ दीपक जलाना चाहिए। यह अत्यंत ही शुभ माना जाता है।

*- मिट्टी से बने हुए कुल्हड़ में चाय या लस्सी पीने से मंगल ग्रह का अशुभ प्रभाव कम हो जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close