हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिंदी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल

नीतीश के मुख्यमंत्री पद के इस्तीफे के बाद लालू ने नीतीश पर लगाया हत्या का आरोप…

नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देकर बिहार की राजनीति में हलचल मचा दी हैं। नीतीश के इस्तीफे के बाद बिहार में पिछले 20 महीनों से चल रही महागठबंधन की सरकार टूट गयी। नीतीश के इस्तीफे से राजनीतिक गलियारों में उथल-पुथल मच गई है। और काफी सवाल भी खडे हो गए है। लोगों के जहन में जो सबसे बड़ा सवाल है वो ये है नीतीश ने आखिरकार सीएम के पद से इस्तीफा क्यों दिया। इसी बीच लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार पर एक बडा आरोप लगाया है।

नीतीश पर लगाया खुन का आरोप :

राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव सीएम नीतीश कुमार के इस्तीफे से बौखला गए हैं। यहीं कारण है की वो नीतीश कुमार पर ऐसा गंभीर आरोप लगा रहे है। लालू ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, “नीतीश कुमार पटना के पंडारक थाने में वर्ष 1991 में एक हत्या के मामले में आरोपी हैं। ऐसे में उनका मुख्यमंत्री बने रहना कहां का जीरो टॉलरेंस था। इस मामले में अदालत ने संज्ञान भी लिया है। लालू ने कहा कि मैं पूरे दस्तावेज के साथ ये आरोप लगा रहा हूं। उन्होंने कहा भ्रष्टाचार से बड़ा हत्याचार है। आपको पता होगा की लालू पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं। उनका पूरा परिवार भी भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरा बैठा है।

उन्होंने आगे कहा कि नीतीश के इस्तीफे के बाद महागठबंधन समाप्त नहीं हुआ हैं। नीतीश से सरकार नहीं चल रही थी इसलिए उन्होंने इस्तीफा दिया है। लालू ने कहा, हमने नीतीश कुमार ने कोई इस्तीफा नहीं मांगा था। नीतीश कुमार अपनी बात से पलट गए है। चाहे कुछ भी हो जाए लेकिन बीजेपी में नहीं जाएंगे।

इस्तीफे के बाद नीतीश ने क्या कहा :

बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद जदयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा कि जितना संभव हो सका, उन्होंने गठबंधन धर्म का पालन करने की कोशिश की। लेकिन बीते घटनाक्रम में जो चीजें सामने आईं उसमें काम करना मुश्किल हो गया था। पिछले कई महीनों से महागठबंधन में विवाद चल रहा था। नीतीश ने कहा, मैंने इन 20 महीनों में जितना हो सका, सरकार चलाने की कोशिश की यहां तक की राहुल गांधी से चर्चा भी की। नीतिश कुमार ने कहा मैंने बिहार के हित में फैसला लिया है और आगे भी लूंगा। मैं किसी को दोष नहीं दे रहा ये कोई संकट नही है बल्कि बनाया गया संकट है।

अब बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनायेंगे नीतीश :

बिहार में चार साल बाद बीजेपी सत्ता में वापसी कर सकती हैं। जानकारी के मुताबिक बिहार में नीतीश कुमार एक बार फिर बीजेपी के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं। नीतीश कुमार राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। बिहार बीजेपी के नेता सुशील मोदी ने साफ किया है कि बीजेपी सरकार में शामिल होगी। दरअसल बिहार में कुल 243 सीटें हैं, बहुमत के लिए 122 सीटें चाहिए। नीतीश कुमार के पास 71 सीटें हैं तो बीजेपी पास 58 सीटों का नंबर है। इन दोनों की सीटें मिलकर 129 होती हैं। जो सरकार बनाने के लिए सही हैं। नीतीश कुमार के घर पर बीजेपी के विधायक पहुंचने भी शुरू हो गए हैं। प्रधानमंत्री मोदी भी ट्विट के जरिए पहले ही नीतीश को बधाई दे चुके हैं।

loading...