ब्रेकिंग न्यूज़

‘हमारी सेना को हिला पाना मुश्किल’ बोलते हुए चीन ने भारत को दी युद्ध की धमकी, देखें वीडियो

बीजिंग: चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा हैम और लगातार भारत को धमकी दे रहा है। हाल ही में चीनी सेना के प्रवक्ता ने कहा कि चीनी सेना अपने सैनिकों की संख्या को डोकलाम में बढ़ाएगी और हमारी सेना को हिला पाना भारत के लिए काफ़ी मुश्किल काम है। चीनी सेना ने यह भी कहा कि किसी भी कीमत पर चीनी सेना देश की संप्रभुता की रक्षा करेगी। प्रवक्ता वू कियान ने कहा कि, “अपने संप्रभुता की रक्षा करने का संकल्प कभी डगमगाने वाला नहीं है।“

भारत ना रहे किसी भ्रम में:

चीनी सेना हर कीमत पर अपने देश की एकता और संप्रभुता की रक्षा के लिए तैयार है। वर्तमान हालात को देखते हुए चीनी सेना ने अपने सैनिकों की संख्या डोकलाम में बढ़ाने का निर्णय लिया है। कियान ने कहा कि मैं भारत को यह याद दिलाना चाहता हूँ कि वह किसी भी तरह के भ्रम में ना रहे। चीनी सेना का 90 साल का इतिहास सेना की क्षमता को दर्शाता है। कियान ने यह भी कहा कि पहाड़ को हिलाना मुमकिन है, लेकिन चीन को हिलाना नामुमकिन है।

चीनी मीडिया कर रही है आग में घी डालने का काम:

आपको बता दें भारत और चीन के बीच यह विवाद 21 जून से शुरू हुआ था जो अब तक चल रहा है। स्थिति में ज़रा भी सुधार होने की गुंजाईश नहीं लग रही है। चीन भारत को लगातार धमकी पर धमकी दिए जा रहा है। उधर चीनी मीडिया भी कुछ कम नहीं है। वह आग में घी डालने का काम कर रही है। चीन के बयानों से लगता है कि वह भारत को उकसाने की कोशिश कर रहा है। 27 जुलाई को भारतीय रक्षा सलाहकार अजीत डोभाल चीन जा रहे हैं।

मीटिंग में हो सकता है डोकलाम विवाद पर चर्चा:

डोभाल वहाँ ब्रिक्स देशों के एनएसए मीटिंग में हिस्सा लेने जा रहे हैं। उम्मीद है कि वहाँ डोकलाम विवाद पर भी चर्चा की जा सकती है। डोकलाम जिसे भूटान में डोलम के नाम से जाना जाता है। 300 वर्गकिमी का यह इलाका चीन की चुम्बी वैली और सिक्किम के नाथुला दर्रे से सटा हुआ है। यही वजह है कि इस इलाके को ट्राई जंक्शन के नाम से जाना जाता है। यह एक खंजर की तरह का भौगोलिक इलाका है जो सिलीगुड़ी कॉरिडोर की तरफ जाता है।

भारतीय सैनिकों की मौजूदगी से हडबडा गया चीन:

इसी इलाके में चीन का आखिरी शहर याटूंग पड़ता है और चीन इसी शहर से लेकर डोकलाम तक रोड बनाना चाहता है। चीन की इस हरकत पर पहले भूटान ने विरोध दर्ज किया फिर भारतीय सेना ने। चीन उस समय पूरी तरह हडबडा गया जब भारतीय सैनिकों की इस इलाके में उसने मौजूदगी देखी। चीन को यह बर्दाश्त नहीं हो रहा है कि विवाद उसके और भूटान के बीच है तो भारत क्यों इसमें अपनी नाक घुसा रहा है।

चीन कर रहा है भारत को भड़काने की कोशिश:

चीनी सीमाओं से सटे हुए सबही देशों ने चीन की दादागिरी की बात की है। उन्होंने कहा है कि चीन अपनी चालाकी दिखाकर उनके इलाके पर कब्ज़ा कर लेता है। डोकलाम पर भी चीन यही करना चाहता था लेकिन भारतीय सेना ने उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया। यही वजह है कि चीन भारत के खिलाफ गलत बयानबाजी करके उसे उकसाने की कोशिश कर रहा है। चीन यह अच्छी तरह जनता है कि इस समय उससे ज्यादा मजबूत भारत की साख अंतर्राष्ट्रीय विरादरी में है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close