दीन दयालु कोच को देख कर रह जाएंगे हैरान, कुछ सुविधाएं राजधानी से भी बेहतर

deen-main

रेल मंत्री सुरेश प्रभु के बजट को सुन कर शायद ही कोई ऐसा हो जिसे रेलवे का त्वरित विकास देख कर आश्चर्य न हुआ हो। भाजपा सरकार का नारा सबका साथ और सबका विकास अब दिखाई भी दे रहा है। रेलवे की दीन दयालु कोचों को देख कर तो ऐसा ही लग रहा है।

सामान्य या अनारक्षित बोगियों की खस्ता हालत से कौन परिचित नहीं है, लेकिन ऐसा ज्यादा दिन तक नहीं रहेगा क्योंकि 700 दिन दयालु बोगियों का इस वित्तीय वर्ष में लगना तय हो गया है।

suresh-prabhu-deen-dayalu-coach-pti_650x400_41468988779

पहला दीनदयालु कोच को इंटिग्रल कोच फैक्ट्री, चेन्नई में बनाया गया है। 19 जुलाई को इसे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन लाया गया था। मंत्रालय का कहना है कि इसी महीने 20 और कोच तैयार हो जाएंगे। इस तरह के कोच को राजधानी, शताब्दी और दूरंतो जैसी ट्रेनों को छोड़कर अन्य ट्रेनों में लगाए जाएंगे।

अगले पेज पर नज़र डालते हैंकुछ ऐसी खासियतों पे जो इसे बाकि बोगियों से बेहतर बनाता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × two =