राजनीति

वीडियो – पीएम मोदी पर बहस कर रहा था ओवैसी, तभी हुआ कुछ ऐसा की जोड़ने पड़ गए हाथ-पैर!

नई दिल्ली – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार से इजारयल दौरे हैं। यह पहली बार है जब भारत का कोई प्रधानमंत्री इजरायल के दौरे पर गया है। हालांकि, प्रधानमंत्री इजरायल तो गए हैं लेकिन उनका फिलीस्तीन जाने का कोई कार्यक्रम नही है। इसी बात को लेकर टीवी चैनल पर एक डिबेट चल रहा था जिसमें एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी भी शामिल थे। लेकिन ओवैसी के साथ वहां कुछ ऐसा हो गया कि उन्हें शो की एंकर के सामने हाथ जोड़ना पड़ गया। Owaisi angry over pm visit of Israel.

पीएम मोदी के फिलीस्तीन न जाने पर चल रहा था डिबेट :

प्रधानमंत्री मंगलवार से इजरायल के दौरे पर हैं लेकिन उनके कार्यक्रम में फिलीस्तान का दौरा शामिल नहीं है। इसी मुद्दे पर एक हिंदी न्यूज चैनल एक डिबेट चल रही थी। इस टीवी डिबेट में अपनी पार्टी का पक्ष रखने के लिए बीजेपी के प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी भी शामिल थे। पीएम मोदी द्वारा फिलीस्तान न जाने पर अपना पक्ष रखने के लिए हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी भी इस डिबेट में शामिल थे।

ओवैसी ने पीएम के फिलीस्तान न जाने पर कहा कि भारत के प्रधानमंत्री का इजरायल जाकर फिलीस्तीन न जाने से इजरायल फिलीस्तीन पर और ज्यादा हावी हो जाएगा। ओवैसी ने आगे कहा कि भारत की नीति कभी इस तरह कि नहीं रही है। ओवैसी की इस बात का जवाब देते हुए शो की एंकर अंजना ओम कश्यप ने कहा कि, पीएम के इस दौरे से आपको बैठे बिठाए बिना बात के राजनीतिक खुराक मिल गई है।

 शो की एंकर पर भड़क उठे असदुद्दीन ओवैसी :

असदुद्दीन ओवैसी शो की एंकर की ये बात सुनते ही अपना आपा खो बैठे और हाथ जोड़ते हुए कहा कि, मैडम आप मुझे अपने टीवी चैनल पर मत बुलाया कीजिए, मेरी खुराक बंद कर दीजिए। यहां आपने बुलाया है इसलिए आया हूं, आप नहीं बुलायेंगी मैं नहीं आऊंगा। इस बहस के बावजूद भी ओवैसी अपनी बात पर कायम रहे।

आपको बता दें कि पीएम मोदी तीन दिन तक इजरायल में रहेंगे। जहां वे इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू से द्विपक्षीय संबंधों पर बातचीत के अलावा इजरायली राष्ट्रपति से भी मुलाकात करेंगे। इसके अलावा मोदी इंडियन सेमटेरी में भारतीय शहीद जवानों को श्रद्धांजलि भी देंगे। पीएम मोदी इजरायल में कई अहम प्रौद्योगिकी स्थलों का भी दौरा करेंगे।

देखें वीडियो –

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close