समाचार

CDS Bipin Rawat Death: पाकिस्तानी सेना ने सीडीएस बिपिन रावत की मौत के बाद किया ये ट्वीट

तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया है. इस हादसे में सीडीएस बिपिन रावत (Bipin Rawat) और उनकी पत्नी मधुलिका रावत (Madhulika Rawat) सहित हेलीकॉप्टर में सवार 13 लोगों की मौत हो गई है, जबकि एक जवान को बचा लिया है.

जवान की हालत गंभीर बताई जा रही है. जिनका इलाज़ अभी चल रहा है. इस खबर से पूरे देश में शोक व्याप्त है. पाकिस्तान की सेना (Pakistani Army) ने भी सीडीएस बिपिन रावत की मौत पर दुख जताया है.

bipin rawat

भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की सेना ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से लिखा कि, ‘जनरल नदीम रजा, जनरल कमर जावेद बाजवा और सीओएएस (चीफ ऑफ द आर्मी स्टाफ) भारत में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश में सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और अन्य लोगों की दुर्भाग्यपूर्ण मौत पर अपनी संवेदनाएं प्रकट करते हैं.’ साथ ही कई तमाम पाकिस्तान के लोगों ने दुख जाहिर किया है.

पाकिस्तान के एम. नोमान नाम के यूजर ने लिखा, ‘सीडीएस बिपिन रावत की मौत की खबर सुनकर सदमे में हूं. इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं.’ वहीं एक अन्य यूज़र ने लिखा, ‘मानवता सबसे पहले आती है और पाकिस्तानी आर्मी ने प्रोफेशनलिजम दिखाया है. हम नफरत में यकीन नहीं करते हैं.’

पीएम मोदी ने भी व्यक्त किया दुःख

पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि, मैं तमिलनाडु में हुए हेलीकॉप्टर दुर्घटना से बहुत दुखी हूं जिसमें हमने जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बलों के अन्य कर्मियों को खो दिया है. उन्होंने पूरी लगन से भारत की सेवा की. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं.

प्रधानमंत्री आवास पर सीसीएस की बैठक (CCS) बुलाई गई थी. इस दौरान तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर हादसे पर दुख जताया गया है. साथ ही सीडीएस बिपिन रावत समेत 13 लोगों की मौत पर दो मिनट का मौन भी रखा गया है.

bipin rawat

सीडीएस रावत ने दिया था कई बड़े ऑपरेशनों को अंजाम
आपको बता दें कि, सीडीएस रावत ने पिछले चार दशकों में देश के लिए कई बड़े ऑपरेशनों में अपना अहम् योगदान दिया था. उन्हें पूर्वोत्तर में आतंकवाद को कम करने के लिए जाना जाता है. मणिपुर में जून 2015 में आतंकी हमले में 18 सैनिक शहीद हो गए थे. इसके बाद 21 पैरा कमांडो ने सीमा पार जाकर म्यांमार में आतंकी संगठन एनएससीएन-के कई आतंकियों को ढेर किया था.

उस समय 21 पैरा थर्ड कॉर्प्स के अधीन थी. जिसके मांडर बिपिन रावत थे. इसके अलावा 2016 को 29 सितंबर के दिन रावत के नेतृत्व में भारतीय सेना ने पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक की थी. इस दौरान पाक के कई आतंकियों को मार गिराया था.

bipin rawat

कई मेडल से किया जा चुका है जनरल रावत को सम्मानित
सैन्य सेवा के दौरान जनरल रावत को परम विशिष्ट सेवा मेडल, उत्तम युद्ध सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल, विशिष्ट सेवा मेडल, युद्ध सेवा मेडल और सेना मेडल से सम्मानित किया जा चुका है. जनरल रावत की दो ही बेटियां है और अब उन पर पूरा बोझ आन पड़ा है. बेटियां की माता-पिता को मुखाग्नि देगी. आज सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी का शव दिल्ली लाया जाएगा.

Back to top button