अध्यात्म

भोजन में लायें ये बदलाव और घर की इस महिला का करें आदर, शनिदेव होंगे प्रसन्न!

शनि देव को लोग अक्सर नुकसान पहुंचाने वाला और दुःख देने वाला देवता समझते हैं। लोगों को शनिदेव की वजह से परेशान होता देख लोगों को ऐसा भ्रम अक्सर हो जाता है कि शनिदेव सिर्फ लोगों का बुरा करते हैं। लेकिन लोगों का ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है। शनिदेव न्याय के देवता हैं। जो व्यक्ति जैसा कर्म करता है, उसे उसी के हिसाब से फल मिलता है। ऐसा माना जाता है कि जो लोग अच्छे कर्म करते हैं, शनिदेव उनसे बहुत प्रसन्न रहते हैं और उन्हें वरदान देते हैं।

गृहलक्ष्मी को कभी भी नहीं रोने देना चाहिए:

जिस व्यक्ति पर शनिदेव की कृपा होती है, वह जीवन में सभी परेशानियों से बचा रहता है। ऐसा माना जाता है कि घर की महिला से सहानुभूति बरतनी चाहिए। घर की गृहलक्ष्मी को कभी भी रोने नहीं देना चाहिए। जिस घर की गृहलक्ष्मी रोती है, उस घर से सुख-शांति हमेशा के लिए गायब हो जाती है। महिलाओं का सम्मान करके ही शनि प्रधान जातक अपने भाग्य का उदय कर सकता है।

शनि का प्रभाव कम करने के लिए करें ये काम:

*- खाना खाते समय अगर खाने में नमक कम हो तो काले नमक का प्रयोग करें और यदि मिर्च कम हो तो काली मिर्च का प्रयोग करें।

*- हर रोज सुबह के समय खाली पेट काली मिर्च चबाएं, तत्पश्चात गुड़ या बतासा का सेवन करें।

*- शनिवार और मंगलवार के दिन व्यक्ति को क्रोध करने से बचना चाहिए।

*- भोजन करने के पश्चात् लौंग का सेवन करना ना भूलें।

*- कुछ लोग खाना खाते समय काफी बातें करते हैं। यह शनिदेव को गुस्सा दिला देता है। इसलिए खाना खाते वक्त बात ना करें।

*- हर शनिवार के दिन सोने से पहले शरीर और नाखूनों पर थोड़ा तेल लगाएं।

*- मांस-मछली, नशे की कोई वस्तु या शराब का सेवन व्यक्ति को कभी नहीं करना चाहिए।

*- शनिदेव को गुड़ व चने का भोग लगाने के बाद ज्यादा से ज्यादा लोगों में इसे प्रसाद के रूप में बांटना चाहिए।

*- उड़द की दाल से बना हुआ बड़ा या उड़द से बनी हुई खिचड़ी लोगों में जरुर बाँटनी चाहिए।

*- हर शनिवार के दिन एक लोहे की कटोरी में तेल भरकर उसमें अपना चेहरा देखें। उसके बाद उसमें एक बत्ती डालकर उसे शनि मंदिर में जला देना चाहिए।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close