श्रीनगर: अलगाववादियों ने पुलिस डीएसपी को पत्थर मार-मारकर उतारा मौत के घाट!

जम्मू-कश्मीर: कश्मीर की हालत बहुत ही नाजुक है। वहां एक छोटी सी बात से कब बहुत बड़ा बवाल खड़ा हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता है। आप तो जानते ही हैं कि पिछले कई सालों से वहां अलगाववादियों ने जिस तरह से लोगों के मन में आग लगाई है, उसकी वजह से वहां शांति देखने को ही नहीं मिलती है। लोगों के दिलों में छोटी-छोटी बात के लिए भी बड़ा खौफ भरा हुआ है।

कई बार लोग इसी खौफ की वजह से लोगों को संदिग्ध नजर से देखते हैं। जो लोग देश के किसी अन्य भाग से कश्मीर जाते हैं, उन पर तो कुछ ज्यादा ही संशय की निगाह होती है। वहां के रहने वाले लोग कुछ ज्यादा ही भयभीत रहते हैं। इसी भय की वजह से कई बार गलती हो जाती है। हाल ही में एक ऐसी ही घटना देखी गयी है।

मस्जिद के बाहर खींच रहा था लोगों की फोटो:

जम्मू-कश्मीर की जामिया मस्जिद के बाहर वहां अलगाववादियों ने डीएसपी मुहम्मद अयूब को संदिग्ध परिस्थिति में गुजरते देखा। वह  मस्जिद से बाहर आने वाले लोगों की फोटो खींच रहे थे। अलगाववादियों ने उस व्यक्ति को पकड़ने की कोशिश की तो जान बचाने के लिए डीएसपी मुहम्मद अयूब पंडित ने अपनी पिस्तौल निकाली और गोलियां चलानी शुरू कर दी। गोलीबारी से तीन लोग घायल हो गए।

मरने से पहले लोगों ने कर दिया था निर्वस्त्र:

सूत्रों से पता चला है कि अलगाववादियों ने डीएसपी पर पत्थर बरसाने शुरू कर दिए। लोग तब तक पत्थर बरसाते रहे जब तक डीएसपी की मौत नहीं हो गयी। यह भी पता चला कि मरने से पहले उसे निर्वस्त्र कर दिया गया था। डीएसपी को इतनी बुरी तरह से मारा गया था की उन की शकल नहीं पहचानी जा रही थी, शकल पूरी तरह से बिगड़ चुकी थी। शव को पहचान के लिए पुलिस नियंत्रण कक्ष ले जाया गया है और कानूनी प्रक्रिया जारी है। इस घटना के बाद पुराने शहर में तनावपूर्ण माहौल है।

जुमे की नमाज के बाद करेंगे अलगाववादी प्रदर्शन:

घटनास्थल पर स्थिति सामान्य करने के उद्देश्य से अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। अधिकारियों ने शहर के 7 थाना क्षेत्रों में लोगों की सुरक्षा के लिहाज से आवाजाही पर रोक लगा दी है। जुमे की नमाज के बाद अलगाववादियों में विरोध प्रदर्शन करने के लिए कहा है। इसके मद्देनजर रखते हुए ये सभी सुरक्षा इंतजाम किये जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.