बॉलीवुड

बंद कमरे में माधुरी ने पार की थी सारी हदें, विनोद खन्ना ने Kiss करते हुए काट लिए थे माधुरी के होंठ

दिवंगत अभिनेता विनोद खन्ना और मशहूर अदाकारा माधुरी दीक्षित की चर्चित फिल्म ‘दयावान’ ने अपने 33 साल पूरे कर लिए हैं. 21 अक्टूबर 1988 को यह फिल्म रिलीज हुई थी. इस फिल्म में माधुरी दीक्षित और विनोद खन्ना के बीच एक बेहद बोल्ड सीन फिल्माया गया था जिसकी चर्चा आज भी ख़ूब होती है.

amrish puri

माधुरी दीक्षित और विनोद खन्ना ने फिल्म में अहम रोल अदा किया था. साल 1988 में प्रदर्शित हुई इस फिल्म का निर्देशन दिवंगत अभिनेता फिरोज खान ने किया था. वहीं फिरोज ने फिल्म में अभिनय भी किया था. इसके अलावा फिल्म में मशहूर खलनायक रहे अमरीश पुरी ने भी मुख़्य भूमिका अदा की थी.

madhuri dixit and vinod khanna

फिल्म ‘दयावान’ माधुरी और विनोद खन्ना के बीच हुए एक किसिंग सीन को लेकर ख़ूब चर्चा में रही थी. विनोद और माधुरी के बीच किसिंग सीन बंद कमरे में फिल्माया गया था. बता दें कि, माधुरी के साथ किसिंग सीन करने के दौरान विनोद खन्ना बहक गए थे. निर्देशक के कट बोलने के बाद भी वे माधुरी को किस करते रहे थे.

madhuri dixit and vinod khanna

विनोद और माधुरी के बीच फिल्माया गया किसिंग सीन बेहद बोल्ड था. बंद कमरे में फिल्माया गया यह सीन करीब 30 सेकेंड का था हालांकि शूटिंग के दौरान विनोद खन्ना सुध-बुध खो बैठे थे और वे कट बोलने के बाद भी लगातार माधुरी को चूमते रहे थे. इससे माधुरी काफी असहज हो गई थी. बताया जाता है कि विनोद खन्ना ने इस दौरान एक्ट्रेस के होंठ भी काट लिए थे.

madhuri dixit and vinod khanna

माधुरी दीक्षित को आज भी इस फिल्म में दिए गए किसिंग सीन को लेकर पछतावा होता है. सालों पहले उन्होंने एक साक्षात्कार में इस पर बात करते हुए कहा था कि, ‘फिल्म ‘दयावान’ में उन्होंने जो किसिंग सीन किए, उसका उन्हें आज भी पछतावा होता है.’ जानकारी के लिए बता दें कि बाद में विनोद खन्ना ने अभिनेत्री से माफी मांगी थी.

vinod khanna and madhuri

दयावान से जुड़ी कुछ रोचक बातें और…

फिल्म दयावान से जुड़ी और भी कई ऐसी बातें है जो आपको जरुरु जानना चाहिए. दिग्गज़ खलनायक रहे अमरीश पुरी ने अपने पूरे फ़िल्मी करियर में कभी भी किसी फिल्म में छोटा रोल नहीं किया था हालांकि ‘दयावान’ उनकी एक मात्र ऐसी फिल्म थी जिसमें वे छोटे रोल में नज़र आए. फिल्म में शॉर्ट रोल उन्होंने फिरोज खान के कहने पर किया था.

feroz khan and vinod khanna

जहां अमरीश पुरी के फ़िल्मी करियर की यह पहली और आख़िरी ऐसी फिल्म थी जिसमें वे शॉर्ट रोल में नज़र आए थे तो वहीं फिरोज खान के करियर की यह पहली ऐसी फिल्म थी जिसमें वे सेकेंड लीड रोल में थे. यह फिल्म तमिल फिल्म नायकन की हिंदी रीमेक थी. इसके अधिकार को पाने के लिए फिरोज ने 10 लाख रुपये दिए थे.

vinod khanna and madhuri dixit

माधुरी नहीं थी पहली पसंद, श्रीदेवी को किया था अप्रोच…

बताया जाता है कि दयावान के लिए पहले मेकर्स ने दिवंगत अदाकारा श्रीदेवी को अप्रोच किया था. फिरोज खान ने इसके लिए श्रीदेवी से कई बार मुलाक़ात भी की थी हालांकि श्रीदेवी उस समय बेहद व्यस्त चल रही थी और उनके पास डेट्स नहीं थी. ऐसे में बाद में यह फिल्म माधुरी की झोली में आई. फिल्म को दर्शकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिला था. बता दें कि, फिरोज की यह विनोद और माधुरी दोनों के ही साथ आख़िरी फिल्म थी.

Back to top button