भारत की हार के बाद पाकिस्तानी एंकर ने कहा – ‘नरेंद्र मोदी ने हमारा जो पानी रोक रखा है, उसी में डूब मरो’

नई दिल्ली – क्रिकेट में हार जीत तो लगी रहती है, लेकिन कभी-कभी क्रिकेट फैंस ये भूल जाते हैं और हार पर ऐसे मातम मनाते हैं जैसे किसी ने उनका सब कुछ छीन लिया हो। चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम की हार से दुखी और पाकिस्तान की जीत से खुश हो रहे क्रिकेट प्रेमियों ‘हमने कप हारा है कश्मीर नही।’ इसलिए हार पर इतना निराश न हो और जीत पर इतना इतराओं भी मत। बात करें कल हुए चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले की जिसमें पाकिस्तान ने भारत को बुरी तरह से हरा दिया। जिसके बाद पाकिस्तानी न्यूज चैनल का एक एंकर इतना अतिउत्साही हो गया कि उसने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पानी में डूब मरने तक की बात कह दी। Pakistani anchors insult pm modi.

पाक की जीत से पाकिस्तानी एंकर हुआ उन्मादी :

पाकिस्तान के न्यूज चैनल के एंकर आमिर लियाकत ने अपनी पाकिस्तानी टीम का गुणगान करते हुए और भारतीयों पर जमकर भड़ास निकालते हुए कहा, नरेंद्र मोदी तुमने जो पाकिस्तान का पानी रोक रखा था जाओ उसी मे डूब मरो। इस पूरे शो के दौरान इस पाकिस्तानी एंकर की भाषा बेहद भड़काऊ और अपमानजनक थी।

बता दें कि रविवार 18 जून को ओवल के मैदान में हुए चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान ने भारत को 180 रनों से हराकर ट्रॉफी अपने नाम कर ली। भारत की ओर से कोई भी खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका। गेंदबाजी से लेकर बल्लेबाजी तक भारतीय टीम ने खराब प्रदर्शन किया जिसके कारण टीम इंडिया को हार का मुंह देखना पड़ा।

क्रिकेट में हारे, लेकिन हॉकी में पाकिस्तान को हराया :

चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में भारत को भले ही हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन लंदन के ओवल में चैंपियंस ट्रॉफी की खिताबी टक्कर के बीच भारतीय हॉकी टीम ने अपना काम करते हुए अपने चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को ली वैली सेंटर में 7-1 से करारी शिकस्त देकर इस हार के गम पर मरहम लगाने का काम किया है।

भारत ने हॉकी वर्ल्ड लीग सेमीफाइनल (वर्ल्ड कप क्वालिफायर) में लगातार तीसरी जीत हासिल की है। लेकिन चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत की हार के बाद पाकिस्तानी न्यूज एंकर ने अर्णब गोस्वामी, वीरेंद्र सहवाग और ऋषि कपूर पर निशाना साधा है।

देखिए वीडियो –

https://youtu.be/0oc7H1ue-dc

Leave a Reply

Your email address will not be published.