ब्रेकिंग न्यूज़

जम्मू-कश्मीर : बुरहान-सबजार के बाद सेना ने अब लश्कर कमांडर जुनैद मट्टू भी किया ढेर!

जम्मू-कश्मीर जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच आज 8 घंटे चले एनकाउंटर में लश्कर के टॉप कमांडर जुनैद मट्टू समेत दो आतंकी मारे गए। खबरों के मुताबिक, यह एनकाउंटर कुलगाम के अरवानी गांव में ईदगाह मोहल्ले में हुआ। जहां सुरक्षाबलों ने आतंकियों को एक बिल्डिंग में घेर लिया था, जिनमें लश्कर का कमांडर जुनैद मट्टू भी शामिल था। सुरक्षाबलों को इस इलाके में आतंकियों के छुपे होने की सूचना मिली थी जिसके बाद जवानों ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया। junaid mattoo eliminated in encounter.

10 लाख का इनामी आतंकी था जुनैद मट्टू :

सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा का स्थानीय कमांडर जुनैद मट्टू मार गिराया है। प्रशासन ने एहतियातन पूरे कश्मीर में इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया है और श्रीनगर-बनिहाल रेल सेवा को भी रोक दिया है। मुठभेड़ में स्थानीय आतंकियों के मारे जाने की खबर के बाद पंपोर, बिजबिहाड़ा, अवंतीपोर और पुलवामा में हिंसक वारदातें शुरु हो गई हैं।

खबरों के मुताबिक, गुरुवार को कुलगाम में एक पुलिसकर्मी की हत्या के बाद से ही सुरक्षाबलों ने पूरे क्षेत्र में आतंकियों के खिलाफ सर्च ऑपरेशन जारी किया था। इसके तहत ही आज सुबह पुलिस को सूचना मिली कि अरवनी गांव में तीन से चार आतंकी छिपे हुए हैं। जिसके बाद राज्य पुलिस विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने सेना की आरआर व सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर पूरे इलाके को घेर लिया।

कौन था जुनैद मट्टू :

junaid mattoo eliminated in encounter

दक्षिण कश्मीर में लश्कर-ए-तैयबा का कंमाडर जुनैद मट्टू कुलगाम के वानी गांव का रहने वाला था। मट्टू के बारे में जो जानकारी है उसके मुताबिक वो काफी पढ़ा-लिखा था और उसे तकनीकी ज्ञान भी था। पिछले साल जून में आतंकियों के गुट ने अनंतनाग में पुलिस स्टेशन पर हमला किया था, जिसमें मट्टू भी शामिल था। मट्टू पिछले साल ही BSF की बस पर हुए हमले में भी शामिल था। जुनैद मट्टू पर 10 लाख रुपए का इनाम था।

गुरूवार देर रात से ही श्रीनगर के बाहरी इलाके रंगरेथ में स्थानिय कश्मीरी पथराव कर रहे हैं, जिसको काबू में करने के लिए सुरक्षा बलों ने गोलीबारी कि जिसमें 22 वर्षीय नजीर अहमद की मौत हो गई। पुलिस अधिकारी के मुताबिक रंगरेथ में युवकों के एक समूह ने सुरक्षा बलों के वाहनों पर पथराव भी किया, जिसमें सुरक्षा बलों ने गोलियां चलाईं जिससे नजीर घायल हो गया था। जिसके बाद उसे सौरा के एसकेआईएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने दम तोड़ दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close