ब्रेकिंग न्यूज़

साढ़े 3 साल की बच्ची से किया था रेप अब होगी फांसी, फास्ट ट्रैक कोर्ट का फैसला

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में बलात्कार के एक मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट ने फैसला देते हुए 24 साल के युवक को फांसी की सजा सुनाई है। युवक ने बच्ची का रेप करने के बाद उसकी हत्या कर दी थी। दरिंदे को फांसी दिलाने के लिए उस वक्त जमकर प्रदर्शन हुआ था। जिले में यह पहला मामला है जब किसी को सजा-ए-मौत दी जा रही है। चकित करने वाली बात है कि घटना पिछले साल गणेशोत्सव के दौरान हुई थी और फैसला भी गणेशोत्सव के दौरान ही आया।

पिछले साल अगस्त 2020 में चिखली के कांकेर गांव में 3 साल की एक बच्ची को अगवाह कर लिया गया था। जब पुलिस को बच्ची के गुमशुदगी की बात पता चली तो जांच में पाया गया कि पास ही में रहने वाला शेखर उसे अपने साथ लेकर गया था। पुलिस ने उसके घर की तलाशी ली तो घर में से ही बच्ची का शव बरामद हुआ था।

चॉकलेट का दिया था लालच

बच्ची घर के आंगन से ही गायब हुई थी इसलिए पहले परिजनों और गांव वालों ने उसे आसपास ढूंढा लेकिन जब नहीं मिली तो पुलिस में सूचना की। किसी ने उसे शेखर के साथ जाते हुए देखा था बाद में  गहन पूछताछ के बाद हत्यारे शेखर ने बताया कि उसने बच्ची को चॉकलेट का लालच दिया था और ले जाकर उसका रेप किया था। लेकिन जब बच्ची चीखी तो डर के मारे उसने तकिए से मुंह दबाकर उसे मार डाला। वह बच्चे के शव को ठिकाने लगा पाता उससे पहले ही पुलिस ने उसे दबोच लिया। पुलिस ने भी इस मामले में तेजी से काम करते हुए डीएनए रिपोर्ट समेत चालान कोर्ट में पेश कर दिया था उसी का नतीजा है कि जल्दी फैसला सका।

Court

जज ने लिखा मौत से ही मिलेगा न्याय

1 साल से मामले की सुनवाई कर रहे जस्टिस शैलेष शर्मा ने अपने जेंजमेंट में लिखा कि यह समाज में घृणित और कलंकित करने वाली घटना है इसमें आरोपी की मौत के बाद ही बच्ची को न्याय मिलेगा। युवक को पोक्सो यानी प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन फ्रॉम सेक्सुअल एब्यूज़ के तहत फांसी की सजा सुनाई गई है।

नशेड़ी है आरोपी

आरोपी शेखर को शराब की लत है और इसी कारण उसकी पत्नी भी उसे छोड़कर जा चुकी है सबसे वह घर में अकेला ही रहता है। पुलिस ने बताया कि जिस दिन उसने बच्ची के साथ जघन्य ने अपराध किया उस दिन भी वह नशे की हालत में ही था।

कोरबा में भी रेप के मामले में सजा

कोरबा में भी एक नाबालिग से रेप के मामले में कोर्ट ने 2 लोगों को 14 साल की सजा सुनाई है साथ ही उन पर दो हजार का जुर्माना भी लगाया गया है।‌‌ नाबालिक के साथ जंगल में ले जाकर रेप किया गया था और उसे उसी हालत में छोड़ दिया गया था। इस मामले में 2 साल बाद सजा सुनाई गई है।

Back to top button