कहीं आपका मित्र ही आपका सबसे बड़ा दुश्मन ना बन जाए, भूलकर भी ना करें ये गलतियां!

मित्रता दुनिया का सबसे अजीब रिश्ता होता है। इस रिश्ते को सबसे बड़े रिश्तों में से माना जाता है और यह विश्वास के दम पर टिकता है। अन्य रिश्तों के बारे में कहा जाता है कि वह तो व्यक्ति को जन्म के साथ ही मिलते हैं, लेकिन दोस्ती ही एक ऐसा रिश्ता है जो व्यक्ति खुद से चुनता है। वह अपने हिसाब से लोगों को परखकर अपना दोस्त बनाता है। कई दोस्त ऐसे भी होते हैं जो जरूरत पड़ने पर अपनी जान भी कुर्बान कर देते हैं। सही ही कहा गया है कि जो जरूरत के समय साथ देता है वही सच्चा मित्र होता है।

दोस्ती के रिश्तों पर वास्तु भी डालता है प्रभाव:

बाकी लोग तो बस दोस्ती का दंभ भरते हैं, लेकिन जब जरूरत आती है तो साथ छोड़कर चले जाते हैं। जहां ज्यादा प्यार होता है वहां लड़ाइयां भी ज्यादा होती हैं। लेकिन लड़ाई के बाद समझौता कर लेना सही रहता है, वरना रिश्ता हमेशा के लिए टूट जाता है। इसके लिए कई बार वास्तु भी जिम्मेदार होता है। आपकी और आपके दोस्त के बीच कभी लड़ाई ना हो और रिश्ते मजबूत बने रहे, इसके लिए कुछ बातों का ध्यान जरूर रखें।

दोस्ती बरकरार रखने के लिए अपनाएं यह वास्तु उपाय:

*- घर के मुख्य द्वार के आस-पास के स्थान को रिश्तों को प्रभावित करने वाला माना जाता है। इसलिए इस जगह को आस-पास भूलकर भी गंदगी ना करें और मुख्य द्वार के सामने और पीछे गंदे वस्त्र ना रखें।

*- कई लोग दोस्ती साबित करने के लिए एक दूसरे का जूठा खाना भी खा लेते हैं। वास्तु के अनुसार यह उचित नहीं है। ऐसा करने से लड़ाइयां ज्यादा होने लगती हैं। रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए एक दूसरे का जूठा भोजन ना करें।

*- घर की छत पर भूलकर भी कबाड़ या गैर-जरूरी चीजें नहीं रखनी चाहिए। इस स्थान को भी रिश्तों पर असर डालने वाला माना जाता है। ऐसा करने से पारिवारिक रिश्तों में भी दरार पड़ जाती है।

*- मित्रों को भूलकर भी रुमाल या परफ्यूम उपहार में नहीं देना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इन चीजों को उपहार में देने से दोस्ती में अविश्वास बढ़ जाता है और लड़ाई-झगड़े भी होने लगते हैं।

*- अपने मित्र को कोई भी काले रंग की चीज कभी नहीं दें या उससे लें। काला रंग राहू को प्रभावित करता है। राहू दोस्ती के लिए शुभ नहीं होता है।

*- शनिवार के दिन अपने मित्र से भूलकर भी कोई लेन-देन ना करें और उनसे बहस करने से बचना चाहिए। इस दिन छोटी-छोटी बात भी काफी बड़ी हो जाती है। ऐसा करने से बड़ा विवाद हो जाता है।