ब्रेकिंग न्यूज़

सेना ने 3 दिन में मार गिराए 14 आतंकी, तो घबराये PAK सेना प्रमुख को करना पड़ा LoC का दौरा!

जम्मू-कश्मीर – पाक सेना प्रमुख जावेद बाजवा ने आज एलओसी (नियंत्रण रेखा) से सटे मुजफ्फरनगर सेक्टर का दौरा किया। पाकिस्तानी सेना प्रमुख ने एक महीने में तीसरी बार एलओसी का दौरा किया है। खतरे वाली बात यह है कि बाजवा ने जब भी एलओसी पर सैनिकों से मुलाकात की है तब पाक सेना ने किसी न किसी बड़ी घटना को अंजाम दिया है। इससे पहले जब बाजवा ने पाक सैनिकों से मुलाकात की थी तो उन्होंने 2 दिन बाद ही कृष्णा घाटी में दो भारतीय सैनिकों के शव को क्षत विक्षत कर दिया था। Pakistan coas visits loc.

कश्मीर में तीन दिन में मारे गए 14 आतंकी –

सुरक्षा बलों ने कश्मीर में लगातार तीसरे दिन आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश नाकाम करते हुए 14 आतंकी मार गिराए हैं। शनिवार सुबह भी कश्मीर के गुरेज सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश करता एक आतंकी मारा गया। उसके पास से हथियार बरामद हुए हैं और पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है। सुरक्षा बलों ने लाल चौक क्षेत्र में भी सर्च ऑपरेशन चला रखा है।

इससे पहले सेना ने शुक्रवार को उड़ी सेक्टर में 6 और गुरुवार को नौगाम में 7 आतंकियो को ढेर किया था। 6-7 जून की रात को सेना के जवानों को माछिल सेक्टर में आतंकियों की घुसपैठ की सूचना मिली थी। जिसके बाद सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया और 7 जून को 4 आतंकियों को मार गिराया गया। इस पूरे इलाके में जंगल काफी घना है जिसकी वजह से आतंकी यहां घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे हैं।

भारत की कार्रवाई से घबराया पाकिस्तान :

पाकिस्तानी सेना ने मई 2017 में पुंछ सेक्टर में हमारे दो जवानों के शवों के साथ बर्बरता की थी, जिसके बाद से ही भारतीय सेना पाकिस्तान की हर चाल का करारा जवाब दे रही है। जवानों के शवों के साथ बर्बरता का बदला देते हुए सेना ने कई पाकिस्तानी पोस्ट्स तबाह कर दी थीं। जिसके बाद पाकिस्तान के डीजीएमओ ने हमारे डीजीएमओ को फोन कर बॉर्डर पर अमन बहाल करने की प्रार्थना की थी।

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक एलओसी पर तैनात जवानों ने आतंकी घुसपैठियों का पता चलने के बाद शनिवार सुबह फायरिंग की, जिसमें एक आतंकी मार गिराया गया। आज की इस घटना को मिलाकर पिछले तीन दिनों में 14 आतंकवादियों को मार गिराया गया है। गुरुवार को सेना के एक प्रवक्‍ता ने इस बात की जानकारी दी थी कि पाकिस्‍तान सेना की ओर से एलओसी पर आतंकियों की घुसपैठ में मदद की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close