विशेष

चूड़ी पहनाने के बहाने युवक ने नाबालिग के साथ की छेड़छाड़, पॉक्सो एक्ट समेत दर्ज किए तीन केस

पहचान छुपा कर चूड़ियां बेचने और नावालिग लड़कियों को छेड़ने वाले तस्लीम को भीड़ ने कुटा

इंदौर में एक चूड़ी वाले युवक से मारपीट का मामला सामने आया है। आरोपी युवक गोलू उर्फ तस्लीम के खिलाफ तीन फर्जी पहचान पत्र रखने और नाबालिक बच्ची के साथ छेड़छाड़ के आरोप समेत गंभीर धाराएं लगाई गई है। युवक की शिकायत बाणगंगा थाने में दर्ज की गई है। युवक पर आरोप है कि, वह इंदौर के बाणगंगा थाना इलाके गोविंद नगर में चूड़ी बेचने के लिए गया था। इस दौरान उसने अपने नाम बदल लिया और वह मुस्लिम युवक बनकर गया था। पुलिस ने युवक पर तीन केस दर्ज किए हैं। एक केस उसके पास तीन फर्जी आईडी कार्ड मिलने का दर्ज, दूसरा उसने एक नाबालिक के साथ छेड़छाड़ की जिसके चलते उस पर पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। तीसरा केस उसके साथ की गई मारपीट, जिस पर पुलिस ने तीन आरोपितों को हिरासत में लिया है।

indore news

बता दें, छठवीं क्लास की छात्रा की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है। छात्रा के मुताबिक, 22 अगस्त को दोपहर 2:00 बजे युवक चूड़ी बेचने के लिए आया था जिसने अपना नाम गोलू पिता मोहन सिंह बताया था। चूड़ी बेचने के दौरान युवक ने अपना जला हुआ वोटर आईडी कार्ड भी दिखाया था। इसके बाद ही छात्रा ने अपनी मां के साथ चूड़ियां खरीदी। लेकिन मां जब पैसे लेने के लिए अंदर गई तो युवक छात्रा को जबरदस्ती चूड़ी पहनाने लगा और उसके साथ छेड़खानी भी की। ऐसे में छात्रा चिल्लाई तो आसपास के स्थानीय लोग वहां आ गए। लोगों के आते ही युवक भागने लगा, लेकिन भीड़ ने उसे धर दबोचा और मारपीट शुरू कर दी।

indore-police-filed-a-case-against-the-seller-of-bangles-on-3-serious-sections-in-indore

जानकारी के मुताबिक, युवक के बैग से तीन आधार कार्ड मिले हैं। एक आधार कार्ड पर उसका नाम असलम और दूसरे पर तस्लीम पिता अली लिखा था। इसके अलावा उसके पास एक आधा जला हुआ वोटर आईडी कार्ड भी मिला जिस पर उसके पिता का नाम मोहन सिंह लिखा था। चूड़ी बेचने वाले युवक से मारपीट के मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। खबरों की माने तो राजकुमार भटनागर, राकेश कुमार और विवेक व्यास नाम के तीनों युवक ने चूड़ी बेचने वाले के साथ मारपीट की थी।

indore

बता दें, इस घटनाक्रम का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। ऐसे में रविवार रात अल्पसंख्यक समुदाय ने सेंट्रल कोतवाली थाने पर हंगामा कर दिया जिसके चलते पुलिस ने 30 से ज्यादा लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। इतना ही नहीं बल्कि इस घटना पर सरकार भी सख्त रूप से पेश आ रही है। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि, “जिसकी पिटाई की गई है उस युवक ने हाथ में चूड़ी पहनाने की आड़ में एक किशोरी के साथ अश्लील हरकत की थी। तब स्थानीय लोगों ने इसकी तलाशी ली। इसके पास अनेक वोटर आईडी कार्ड मिले और यह गंभीर मामला है।”

वहीं असदुद्दीन ओवैसी इस मामले को लेकर बुरी तरह भड़क गए हैं। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “इंदौर में चूड़ियां बेचने वाले तस्लीम को एक उग्रवादी भीड़ ने बेरहमी से पीटा। पुलिस ने भी तस्लीम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। तस्लीम का जुर्म यह है कि वह मुसलमान होने के बावजूद चुपचाप लिंच नहीं हुआ। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भी खुलकर अपराधियों के लिए बहाने बना रहे हैं। ऐसे में तो चुनी हुई सरकारों और उग्रवादियों में कोई फर्क नहीं रहा।”

Back to top button