वीडियो में देखें ज्वालामुखी की तरह फट पड़ी सड़क, लावे की तरह निकलने लगी पानी की धार

अक्सर प्राकृतिक आपदाओं वाली फिल्म को देखकर ऐसा लगता है कि सच में ऐसा हो गया तो क्या होगा? क्योंकि कुछ फिल्मों में ऐसे दृश्य दिखाए जाते हैं, जिनके बारे में इंसान सपने में भी नहीं सोचता है कि ऐसा कुछ हो सकता है। आपने हॉलीवुड की कई फिल्मों में देखा होगा कि ज्वालामुखी जब फटता है तो आस-पास कितनी तबाही मचती है। जानकारों का कहना है कि ज्वालामुखी उसी जगह पर होता है, जिस जगह की जमीन कमजोर होती है।

धरती के गर्भ में कई तरह के पदार्थ हैं जो बाहर निकलने के लिए बेचैन हैं। लेकिन उन्हे बाहर निकलने का रास्ता नहीं मिलता है, जिस वजह से वह धरती के अन्दर ही दबे हुए हैं। जैसे ही कहीं जमीन की परत कमजोर होती है, वैसे ही अन्दर के पदार्थ के दबाव के कारण जमीन फट जाती है। ज्वालामुखी का नजारा तो आपने बहुत फिल्मों में देखा होगा। ठीक ऐसे ही कई और प्राकृतिक आपदाओं के सीन भी देखने को मिलते हैं।

सड़क पर हुआ जोरदार धमाका:

बाढ़, चक्रवाती तूफान, अन्तरिक्ष से आने वाले उल्कापिंड, जो धरती पर काफी तबाही मचाते हैं। खैर ये सब तो आपने फिल्मों में देखा ही होगा। लेकिन क्या आपने इस तरह का कोई नजारा सच में देखा है। आज हम आपको एक ऐसी ही घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे देखने के बाद यकीनन आपके होश उड़ जायेंगे। दरअसल यह घटना युक्रेन की राजधानी कीव की है। वहां सोमवार को अचानक सड़क पर एक जोरदार धमाका हुआ। यह धमाका अंडरग्राउंड पाइप लाइन के फट जाने की वजह से हुआ था।

उसके बाद का जो नजारा था, देखने वालों के होश उड़ गए। विस्फोट इतना बड़ा था कि आस-पास की सभी गाड़ियां टूट गईं और मकानों के शीशे भी टूट गए। वहीं पास में लगे एक CCTV कैमरे में यह पूरी घटना कैद हो गयी। वीडियो में आप साफ तौर पर देख सकते हैं कि अचानक सड़क हिलने लगती है और एक जोरदार धमाका होता है विस्फोट के बाद CCTV कैमरे ने काम करना भी बंद कर दिया।

7 मंजिल ऊपर तक गया पानी:

एक दूसरे CCTV कैमरे की मदद से घटना का कुछ हिस्सा रिकॉर्ड किया जा सका। वीडियो में देख सकते हैं कि धमाके की वजह से पूरे इलाके में मिट्टी वाला पानी सड़क पर फैल जाता है। स्थानीय मीडिया के अनुसार विस्फोट इतना भयानक था कि पानी 7 मंजिल ऊपर तक गया था। इस विस्फोट से काफी नुकसान हुआ है। इस घटना की वजह से किसी के घायल होने की कोई सूचना नहीं है। इसी तरह का एक और मामला 2009 में अमेरिका के लॉस एंजलिस में देखने को मिला था।

वीडियो देखें-