BREAKING : गर्दन काटने वाली पाक की BAT टीम ने फिर किया भारतीय सेना पर हमला!

जम्मू-कश्मीर – उरी सेक्टर में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम ने शुक्रवार को एक बार फिर से भारतीय सेना पर हमला किया। लेकिन इस बार सेना के जवान पूरी तरह से मुस्तैद थे और उन्होंने पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम को करारा जवाब दिया है। भारतीय सैनिकों ने इस हमले को नाकाम कर दिया और पाकिस्तान की BAT टीम के दो जवानों को मार गिराया। ऐसा बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की BAT टीम के सैनिक फिर से भारतीय सीमा में घुसकर कुछ दिन पहले हुई वारदात को दोहराने की फिराक में थे। आपको बता दें कि अभी कुछ दिन पहले ही पाकिस्तान की इसी BAT टीम ने दो भारतीय जवानों के शवों के साथ बर्बरता की थी। BAT team attacked on indian army.

जानिए क्या है पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) –

रक्षा विशेषज्ञों और पाकिस्तान मामले के विशेषज्ञों के अनुसार पाकिस्तानी बार्डर एक्शन टीम यानी BAT में पाक सेना द्वारा प्रशिक्षित कमांडो और आतंकवादी दोनों शामिल होते हैं। शायद इसीलिए ये ऐसी वहशी हरकत करते हैं। इन्हें विशेष रूप से छापामार लड़ाई के लिए ट्रेनिंग दी जाती है। बैट पाकिस्तान के स्पेशल सर्विस ग्रुप के साथ काम करती है। बैट को पाकिस्तान सेना से 8 महीने और वायुसेना से 4 महीने का प्रशिक्षण दिया जाता है।

पाकिस्तानी बार्डर एक्शन टीम यानी BAT के बारे में ऐसा कहा जाता है कि इसमें जिहादियों के शामिल होने के कारण ही इनकी भारत के प्रति मानसिकता इतनी गिरी हुई होती है। बैट को अगर पाकिस्तानी गीदड़ों की फौज कहे तो अतिशयोक्ति नहीं होगी, क्योंकि ये अक्सर घात लगा कर ही भारतीय सेना के जवानों पर हमला करते हैं। इससे पहले भी इन्हीं गीदड़ों ने भारतीय सैनिक सुधाकर और हेमराज के शव के साथ बर्बरता की थी।

PAK की ‘बैट’ टीम में शामिल होते हैं आतंकी –

दरअसल, PAK की ‘बैट’ टीम के इतना कायर और क्रूर होने के पीछे इसमें आतंकियों का शामिल होना है। पाकिस्तान की ओर से भी इनको गीदड़ों जैसे पीछे से छिपकर वार करने की ट्रेनिंग दी जाती है। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक इस ट्रेनिंग के दौरान इनको मुर्गे की गर्दन दांतों से काटकर उसका खून पीना पड़ता है। ऐसा भी कहा जाता है कि इनको वहशी बनाने के लिए कच्चा मांस भी खिलाया जाता है।

पाकिस्तान की ओर से इस टीम में आतंकवादियों को शामिल करने के पीछे खास मकसद यह है कि यदि इस टीम का कोई सदस्य भारतीय सेना द्वारा पकड़ा जाए तो पाकिस्तान उसे आतंकी बताकर अपना पल्ला झाड़ सके। पाक BAT में शामिल इन आतंकियों को आधुनिक हथियार मुहैया कराता है। अभियान के दौरान इन्हें पाकिस्तान की ओर से सेटेलाइट फोन, डिजिटल नेविगेशन के साथ-साथ हाई एनर्जी फूड और ड्राई फ्रूट्स भी मुहैया कराया जाता है।

***

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.