बड़ा खुलासा: तो भाजपा के ही इस बड़े नेता के कहने पर मोदी ने स्मृति ईरानी से छीना शिक्षा मंत्रालय

पीएम मोदी के कैबिनेट विस्तार से पूर्व मानव संसाधन मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी को झटका लगा है। उनसे उनका जिम्मा वापस ले लिया गया है। और अब वे कपड़ा मंत्रालय संभालेंगी। बढि़या प्रदर्शन के कारण प्रकाश जावडेकर को मानव संसाधन मंत्री बना दिया गया है। हालांकि अब यह बात भी सामने आ गई है कि स्मृति पर यह एक्शन किसके कहने से लिया गया।

खबरों के मुताबिक भारत के प्रधानमंत्री और भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने स्मृति को मानव संसाधन मंत्रालय से हटाने का फैसला लिया। लेकिन बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्मृति को हटाना नहीं चाहते थे, लेकिन उन्हें एक बड़े दबाव में यह कदम उठाना पड़ा।

बड़ा खुलासा : तो भाजपा के ही इस बड़े नेता के कहने पर मोदी ने स्मृति ईरानी से छीना शिक्षा मंत्रालय

रिपोर्ट के मुताबिक अमित शाह के कहने पर प्रधानमंत्री ने स्मृति से उनका मंत्रालय वापस ले लिया। दरअसल, स्मृति को अपने विभाग के प्रति गैरजिम्मेदार माना जा रहा था। जेएनयू, रोहित वेमूला और डिग्री विवाद के कारण में अमित शाह उनसे नाखुश बताए जा रहे हैं। इसी वजह से अमित शाह ने स्मृति ईरानी को झटका देने के लिए पीएम से कहा था।

स्मृति को भले ही नया मंत्रालय मिला हो, लेकिन इससे वह खुश नहीं हैं। वहीं, अब भाजपा के एक खेमे का मानना है कि जावडेकर किसी विवाद में नहीं फंसे हैं, इसीलिए उन्हें मानव संसाधन मंत्रालय देकर प्रधानमंत्री ने सही फैसला लिया। माना यह भी जा रहा है कि स्मृति को बीजेपी यूपी का चेहरा बनाया जा सकता है। इस वजह से भी उन्हें कपड़ा मंत्रालय दे दिया गया है। हालांकि इस बारे में अभी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.