अद्भुत : जानिए, हिंदुस्तान के इस अनोखे गांव को, जहां हर शख्स 1 जनवरी को पैदा हुआ है!

नई दिल्ली आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि अपने ही देश में एक गांव ऐसा है जहां रहने वाला हर शख्स यानी सभी पुरुष, महिलाएं और बच्चे 1 जनवरी को ही पैदा हुये हैं। यह सुनने में अजीबोगरीब लगने वाला किस्सा है यूपी के एक गांव का। यह गांव इलाहाबाद जिले में पड़ता है। दरअसल, यह जानकार हर कोई दंग है। उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद के गांव कंजासा में हर किसी की जन्मतिथि आधार कार्ड में 1 जनवरी दर्ज है। इस गांव में कुल 10 हजार लोग रहते हैं। Mistake in aadhar card.

इस गांव में सभी का जन्म 1 जनवरी को हुआ है –

इलाहाबाद जिले में पडने वाले इस गांव में रहने वाले सभी की जन्मतिथि 1 जनवरी है। दरअसल, ये कोई चमत्कार नहीं बल्कि आधार कार्ड की गड़बड़ी है। यहां के लोगों का कहना है कि उन्होंने आधार कार्ड के लिए कई महिनों तक इंतजार किया। जिसके बाद उनका आधार कार्ड तो बना लेकिन उसमें ये गड़बड़ी निकल आयी।

आधार कार्ड में तारीख गलत दर्ज होने से इस गांव के लोग को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यह गलती उस समय पकड़ी गई, जब सरकारी प्राइमरी स्कूल के टीचर्स, स्कूल के हर बच्चे का आधार कार्ड नंबर दर्ज करने के लिए गांव पहुंचे। यह इसलिए किया गया क्योंकि यूपी सरकार ने स्कूल जाने वाले बच्चों की आधार संख्या रजिस्टर करने का निर्देश दिया है।

जल्द सुधारी जाएगी ये गलती –

कंजासा गांव की आबादी भी करीब 10 हजार है। एक अंग्रेजी न्यूज पेपर के मुताबिक इस गड़बड़ी का पता स्कूल की शिक्षिका को चलने के बाद उसे लगा कि यह संयोगवश हो सकता है कि 10-12 मामलों में ऐसा हो, लेकिन जब उसने सभी लोगों की जन्मतिथि 1 जनवरी देखी, तो मामले को सबके सामने रखा। इसमें जो जन्मतिथि तथा वर्ष अंकित है, उससे बच्चे काफी बड़ी उम्र के हैं।

इस गड़बड़ी पर गांव की प्रधान राम दुलारी का कहना है कि हमने आधार कार्ड में जन्मतिथि की इस गड़बड़ी को बता दिया है और इसे जल्द ही दूर कर दिया जाएगा। सरकार की ओर से नए आधार कार्ड जारी किए जाएंगे। यह मामला अब अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व डीएस पाण्डेय के संज्ञान में है और उन्होंने कहा है कि हम जल्द ही नए कार्ड जारी करा देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.