जब योगी आदित्यनाथ की आंखों में छलके आंसू…

default.aspx

 

गोरखपुर: दो दिवसीय संगोष्ठी समापन के मौके पर लोगों को संबोधित कर रहे बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ की आंखे अपने गुरू संरक्षक ब्रह्मलीन महंत अभेद्यनाथ को याद कर छलक पड़ीं। भाषण करते करते गला रुंध गया, आंखे नम हो गई। आलम यह कि बात पूरी करने के लिए और आंखो की नमी छुपाने के लिए पानी का सहारा लेना पड़ा।
.
दरअसल रविवार को महंत अवेद्यनाथ के शंखढाल भंडारा पर ‘नाथ पंथ साधना एवं दर्शन’ विषय पर दो दिवसीय संगोष्ठी का समापन था। समारोह को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ महंत अवेद्यनाथ की यादें और उनसे जुड़ी बातें साझा करने लगे। उन यादों में खोए योगी इतने भावुक हुए कि आंखो नम हुई और आंसू बहने लगे। हालांकि, उन्होंने आंसुओ को छुपाने की काफी कोशिश की लेकिन वह कामयाब नहीं हो सके। मंच पर मौजूद अन्य संतों ने उन्हें संभाला और सात्वना दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.