राजनीति

फिल्म मेकर ने उठाया ऐसा सवाल, जिसका जवाब देने में चकरा जाएगा सोनिया-राहुल का माथा। जानिए पूरा बवाल

फिल्म मेकर के सवाल का जवाब क्या देंगे राहुल और सोनिया गाँधी?

फ़िल्मकेकर अशोक पंडित किसी पहचान के मोहताज़ नहीं। वह सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं। साथ ही साथ आए दिन वह किसी न किसी ट्वीट के जरिए चर्चा में बने रहते हैं। एक बार अशोक पंडित फ़िर चर्चा में बनें हुए हैं। इस बार वह किसी फिल्म को लेकर नहीं, बल्कि एक राजनीतिक बयान की वज़ह से सुर्खियों में है। साथ ही ट्विटर पर भी छाए हुए हैं।

ashok pandit

बता दें कि फिल्ममेकर अशोक पंडित ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया है। जिसमें वह राहुल गांधी और सोनिया गांधी पर सवाल उठाते दिख रहे। अपनी पोस्ट में फ़िल्ममेकर ने लिखा कि राहुल-सोनिया गांधी इंदिरा के हत्यारों को भूल गए, लेकिन महात्मा गांधी के हत्यारे क्यों याद है?

अशोक पंडित ने लिखा मन में एक विचार आया। आप सभी के पास अगर जवाब हो तो दीजिएगा कि, ” इंदिरा गांधी के हत्यारों और राजीव गांधी के हत्यारों को सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भुला दिया! लेकिन मोहनदास गांधी जी को मारने वाले को ये लोग आज भी याद करते हैं। ऐसा क्यों?”


अशोक पंडित के सवाल के जवाब में सोशल मीडिया पर ढेरों रिएक्शन और कमेंट आ रहे हैं जी हां हम आपको बता दें कि एक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा कि, ” नया भारत और नई हिस्ट्री लिखी जा रही और आप यही हैं शत शत प्रणाम। हर चीज को रिलेशन से जोड़ दो।” वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा कि, ” याद कोई नहीं करता है सिर्फ पॉलिटिकल बेनिफिट के लिए यूज करते हैं।” वही एक और अन्य ने लिखा कि, ” इंदिरा गांधी के हत्यारों को ना सिर्फ भुला दिया गया बल्कि राजीव गांधी के हत्यारों को तो जीवनदान भी दिया गया।”


ऐसे में कुल मिलाकर देखें तो फिल्ममेकर अशोक पंडित का यह सवाल सोशल मीडिया पर काफी जमकर पर प्रसारित हो रहा। अशोक पंडित के इस सवाल का यूज़र अपने-अपने तरीके से जवाब दे रहे हैं। यहां एक विशेष बात क्या अशोक पंडित के सवाल का जवाब राहुल गांधी और सोनिया गांधी देने का कष्ट करेंगे क्योंकि जो विपक्ष लगातार भाजपा सरकार और नरेंद्र मोदी को सवाल पूछती रहती है। क्या उसे इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के हत्यारों को लेकर जो सवाल अशोक पंडित ने किया है उस पर अपना जवाब नही देना चाहिए? बिल्कुल देना चाहिए क्योंकि अगर कांग्रेस सच में महात्मा गांधी के हत्यारों को नहीं भूल सकती फ़िर वह इंदिरा और राजीव गांधी के हत्यारों को कैसे भूल गई? कहीं ऐसा तो नहीं राजनीतिक बिसात पर गोटियां फ़िट करने के लिए कांग्रेस की यह चाल हो। जो भी हो अशोक पंडित ने राजनीतिक गलियारों में बहस का एक अन्य शिगूफा छोड़ दिया है, देखते हैं आगे वह किस करवट बैठता है।

Show More
Back to top button