बॉलीवुड

जब गाड़ी में बैठे अमिताभ को अमर सिंह ने कहा- इस कार से उतरिए, इस वजह से आई थी दोस्ती में दरार

सदी के महानायक, एंग्री यंग मैन, बॉलीवुड का शहंशाह, बिग बी जैसे ख़ास नामों से पहचान रखने वाले हिंदी सिनेमा के दिग्गज़ अभिनेता अमिताभ बच्चन से पूरी दुनिया अच्छे से परिचित है. अमिताभ बच्चन ने अपनी दमदार आवाज और बेहतरीन अदाकारी से पूरी दुनिया को अपना मुरीद बनाया है. बीते 52 सालों से महानायक अमिताभ बच्चन बॉलीवुड पर राज कर रहे हैं.

amitabh bachchan

अमिताभ बच्चन ने ख़ूब शोहरत के साथ खूब दौलत भी कमाई है. जबकि अपने फ़िल्मी करियर के दौरान उन्होंने कई यार भी कमाए. अमिताभ बच्चन की हिंदी सिनेमा के कई दिग्गजों के साथ बहुत अच्छी दोस्ती है, हालांकि उनका दोस्ती का रिश्ता सबसे अधिक चर्चित समाजवादी पार्टी के दिग्गज़ नेता रहे अमर सिंह के साथ रहा. अमर सिंह और अमिताभ बच्चन की दोस्ती की शुरुआत 90 के दशक में हुई थी.

amitabh bachchan

अमर सिंह ने सदी के महानायक का हाथ उस समय थामा था जब अमिताभ बच्चन अपने जीवन के सबसे बुरे दौर से गुजर रहे थे. अमिताभ के बुरे समय में अमर सिंह उनके साथ थे और उनकी हर तरह से उन्होंने मदद की थी. लेकिन एक बार गाड़ी में बैठे अमिताभ को अमर सिंह ने उतरने के लिए कह दिया था. ख़ास बात यह रही कि, अमर सिंह के कहने पर अमिताभ गाड़ी से उतर भी गए थे. आइए आपको इस किस्से के बारे में विस्तार से बताते हैं…

amitabh bachchan and amar singh

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, एक बार दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इस समारोह में अमिताभ बच्चन और अमर सिंह को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था. जब कार्यक्रम का सफ़ल समापन हो गया तो अमिताभ जाने के लिए निकले और उन्हें आयोजकों द्वारा एक कार में बैठा दिया गया. कार चालू ही होने वाली थी और निकलने वाली थी कि तब ही अमर सिंह का वहां पर आना हुआ. अमर सिंह ने बिग बी को गाड़ी में बैठा हुआ देखकर कहा कि, ”अमित जी आप इस कार से उतरिए और पीछे खड़ी गाड़ी में बैठ जाइए.”

amitabh bachchan and amar singh

मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि, अमिताभ बच्चन ने अमर सिंह की बात मानते हुए कहा ‘जी अच्छा” और वे उस कार से उतरकर पीछे खड़ी गाड़ी में बैठ गए. अपने दोस्त अमिताभ बच्चन को दूसरी गाड़ी में बैठकर अमर सिंह ने कहा कि, आप जाइए, में थोड़ी देर में आता हूं.

amitabh bachchan and amar singh

बता दें कि, अमर सिंह और अमिताभ बच्चन की दोस्ती बहुत ही गहरी थी. अमिताभ बच्चन अपने साक्षात्कार में बता चुके हैं कि, अगर अमर सिंह नहीं होते तो में शायद टैक्सी चला रहा होता. वहीं अमर सिंह ने भी अपने साक्षात्कार में यह बताया था कि, अमिताभ बच्चन यह मानते हैं कि, मैं नहीं होता तो वे टैक्सी चला रहे होते.

amitabh bachchan and amar singh

बता दें कि, अमिताभ बच्चन के साथ ही अमिताभ के परिवार से भी अमर सिंह के बेहद मधुर संबंध थे. जया बच्चन को राजनीति में लाने का श्रेय भी अमर सिंह को ही जाता है. आज जया समाजवादी पार्टी की सांसद है. हालांकि जब अमर सिंह ने सपा छोड़ी तो वे चाहते थे कि जया भी सपा छोड़ दें लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. बताया जाता है कि, ऐसे में अमर सिंह और बच्चन परिवार के बीच रिश्ते बिगड़ने लगे थे और अमिताभ एवं अमर सिंह की सालों पुरानी दोस्ती टूट गई.

amitabh bachchan and amar singh

बाद में अमर सिंह अमिताभ और उनके परिवार पर तीखे ज़ुबानी हमले करने लगे थे. हालांकि अपने निधन से पहले अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन और उनके प्रियवार परिवार से माफी मांगते हुए एक वीडियो जारी किया था. उन्होंने कहा था कि, ”10 साल बीत जाने के बाद भी अमिताभ बच्चन की निरंतरता में कोई बाधा नहीं आई. वह हर ख़ास मौके पर अपना कर्तव्य निभाते हैं. ऐसे में मुझे लगता हैं कि मैंने कुछ ज्यादा ही उग्रता दिखाई है.”

amitabh bachchan and amar singh

Back to top button