ब्रेकिंग न्यूज़

24 घंटे में मिली कोरोना से थोड़ी राहत, पिछले दिनों के मुक़ाबले सामने आए काम केस

कोरोना वायरस की दूसरी लहर की चपेट में काफी लोग आ रहे हैं और कई दिनों से रोजाना 4 लाख से अधिक कोरोना के नए मामले देखने को मिल रहे हैं। हालांकि इसी बीच अब एक राहत की खबर आई है और कोरोना का बढ़ता ग्राफ 24 घंटे में थोड़ा सा कम हुआ है। पांच दिनों में पहली बार नए मरीजों की संख्या 4 लाख से कम आई है। पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 3 लाख 66 हजार 161 नए मरीज सामने आए हैं। जबकि इस दौरान 3,754 लोगों की मौत हुई है। इससे पहले शनिवार को कोरोना के 4 लाख 3 हजार 738 नए मामले सामने आए थे, जबकि 4092 मरीजों की मौत हुई थी। यानी 24 घंटों में कोरोना के मामलों में थोड़ी सी गिरावट दर्ज की गई है।

सरकार के आंकड़ों के अनुसार देश में अब तक कुल 2,26,62,575 करोड़ लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। जबकि अभी इलाज कर रहे मरीजों की कुल संख्या 37,45,237 लाख हो चुकी है। अब तक 1,86,71,222 करोड़ मरीज कोरोना से ठीक होकर घर जा चुके हैं।देश में अबतक 2,46,116 लाख मरीजों की मौत कोरोना से हो चुकी है।

महाराष्‍ट्र में भी हुए थोड़े मामले कम

महाराष्‍ट्र राज्य कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित रहा है। इस राज्य में रविवार को कोविड-19 के 48,401 नए मामले सामने आए हैं। 5 अप्रैल के बाद पहली बार ऐसा हुआ जब एक दिन में 50,000 से कम नए मामले सामने आए हैं। पांच अप्रैल को राज्य में 47,288 नए मामले सामने आए थे।

इस राज्य में संक्रमित लोगों की कुल संख्या 51,01,737 हो गई है। 24 घंटे में 572 लोगों की मौत हुई है। जिससे मृतकों की संख्या बढ़कर 75,849 हो गई है।

दिल्ली में गिर रहा है ग्राफ

कोरोना के नए मामलों का ग्राफ दिल्ली में भी गिर रहा है। रविवार को दिल्ली में कोरोना के मामले 13 हजार के करीब आए हैं। कुछ दिनों से दिल्ली में 20 हजार से कम कोरोना के केस आ रहे हैं। पॉजिटिविटी रेट भी दिल्ली में तेजी से कम हो रही है। पहले पॉजिटिविटी 35 प्रतिशत पर पहुंच गई थी जो कि अब 21 पर है।

लॉकडाउन का हो रहा है फायदा

देश के अधिकतर राज्यों ने अपना यहां पर लॉकडाउन लगा दिया है। जिसका काफी अच्छा असर देखने को मिल रहा है। लॉकडाउन की वजह से ही मामलों में गिरवाट आ रही है। माना जा रहा है कि कई राज्यों में पीक जा चुका है। जबकि कई ऐसे राज्य हैं, जो पीक के बेहद ही करीब हैं। एक्सपर्ट की माने तो जून के अंत कर कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पा लिया जाएगा।

Back to top button