स्वास्थ्य

सेहत के लिए किसी खजाने से कम नहीं है पहाड़ी पुदीना, पढ़ें इससे जुड़े लाभ

पुदीने को सेहत के लिए काफी गुणकारी माना जाता है और इसे खाने से अनगिनत लाभ शरीर को मिलते हैं। पुदीना पेट के लिए उत्तम होता है और इसे खाने से पेट सही रहता है। पहाड़ी इलाके में लगने वाला पुदीना गुणों से भरपूर होता है और इस पुदीने को पहाड़ी पुदीना कहा जाता है। पहाड़ी पुदीने के अंदर कॉपर, आयरन, मैग्नीशियम, वसा के साथ-साथ विटामिन सी, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फोलेट आदि चीजें मौजूद होती हैं। जो कि शरीर के लिए उत्तम मानी जाती हैं। तो आइए जानते हैं पहाड़ी पुदीने के लाभ क्या है और क्यों इसे खाना चाहिए।

पहाड़ी पुदीने के फायदे (spearmint benefits)

दांत का दर्द हो दूर

जिन लोगों को दांतों में दर्द की शिकायत रहती है वो लोग पहाड़ी पुदीने का सेवन जरूर करें। पहाड़ी पुदीने को खाने से दांतों की दर्द सही हो जाती है। साथ में ही मसूड़ों को मजबूती मिलती है। दांतों में दर्द होने पर पुदीने के पत्तों को दांतों के नीचे रख लें या इसके पानी को कुछ देर के लिए मुंह में रखें। ये उपाय करने से दांतों का दर्द भाग जाएगा।

पहाड़ी पुदीने का पानी तैयार करने के लिए इसकी कुछ पत्तियों को अच्छे से पीस लें। फिर इसे पानी के अंदर डाल दें और ये पानी उबाल लें। गैस बंद कर दें और पानी को ठंडा होने दें। इसे छान लें। पुदाने का पानी तैयार है, इसका प्रयोग कर लें।

गले की खराश को सही

गले में खराश होने पर हल्का गर्म पहाड़ी पुदीने का पानी पीएं। ये पानी पीने से खराश दूर हो जाती है और गले को आराम मिलता है। आप चाहें तो इस पानी के अंदर अदरक का रस भी मिला सकते हैं।

पेट की कई समस्या हो दूर

पेट में गैस होना, पेट फूलने, कब्ज, पेट दर्द व इत्यादि तरह की समस्या से पहाड़ी पुदाना निजात दिला देता है। ये समस्या होने पर आप पुदीने का पानी रोज पीया करें। आपको राहत मिल जाएगी। इसके अलावा पाचन संबंधी समस्या होने पर भी ये पानी पीना गुण कारी होता है। इसे पीने से उल्टी और मतली की समस्या से भी छुटकारा मिल जाता है।

प्रतिरक्षा प्रणाली बनें मजबूत

पहाड़ी पुदीने की चाय पीने से प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूती मिलती है और शरीर से संक्रमण भी दूर हो जाते हैं। शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होने पर रोगों से रक्षा होती है और खांसी व जुकाम भी सही हो जीते हैं।

पुदीने की चाय बनाने के लिए पानी को गैस पर गर्म करने के लिए रख दें। इसमें पुदीने के पत्ते डाल दें। फिर इसे अच्छे से उबाल दें। उबलाने के बाद गैस को बंद कर दें और पानी को कप में डाल दें। इसमें शहीद मिला दें। पुदीने की चाय बनकर तैयार है।

हार्मोन का स्तर संतुलित रहे

महिलाओं को अक्सर हार्मोन असंतुलित होने की परेशानी हो जाती है। हार्मोन असंतुलित होने पर वजन बढ़ने लग जाता है और कई बारे तो पीरियड्स पर भी असर पड़ता है। हार्मोन असंतुलित होने पर अगर पुदीने का सेवन किया जाए तो हार्मोन का स्तर संतुलित रहता है। वहीं पीरियड्स के दौरान पेट में दर्द होने पर पुदीने का सेवन करना लाभकारी साबित होता है।

पहाड़ी पुदीने के नुकसान (spearmint side effects)

  • गर्भवती महिलाओं को पुदीने का सेवन न करने की सलाद ही जाती है। इसलिए जो महिलाएं मां बनने वाली हैं, वो पुदीने का सेवन न करें।
  • कई लोगों को पहाड़ी पुदीना खाने से मन खराब होने की शिकायत हो सकती है।
  • इसका सेवन अधिक मात्रा में से पेट खराब हो सकता है।

तो ये थे पुदीने के लाभ व इससे जुड़े कुछ नुकसान।

Back to top button
?>