मुस्लिम महिलाएं मौलवियों को थप्पड़ मारकर अपना लें हिन्दू धर्म: साध्वी प्राची!

अपने बयानों के चलते सुर्खियों में रहने वाली विश्व हिन्दू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने एक बार फिर कुछ ऐसा कहा है कि सबकी निगाहें उन्ही की तरफ हैं। आपको बता दें कि इन्हें फायर ब्रांड नेता के नाम से भी जाना जाता है। इस बार साध्वी ने तीन तलाक मामले पर बोला है। उन्होंने कहा है कि मुस्लिम महिलाओं को मौलवियों को थप्पड़ मारकर हिन्दू धर्म अपना लेना चाहिए। तलाक की समस्या ही खत्म हो जाएगी।

तीन तलाक से परेशान महिलाएं त्याग दें ऐसा धर्म:

साध्वी प्राची ने कहा कि हमारे देश में छोटे से छोटे मुद्दे को बढ़ा-चढ़ाकर सामने लाया जाता है। बच्चा पेशाब कर दे, बाजार में देर हो जाए, बुर्का पहनकर घर से बाहर ना निकला जाए या सब्जी में नमक ज्यादा हो जाए तो तलाक दे दिया जाता है। तीन तलाक की वजह से परेशान महिलाओं को मौलवियों को थप्पड़ मारकर ऐसे धर्म का त्याग कर देना चाहिए और हिन्दू धर्म अपना लेना चाहिए। जीवनभर के लिए तलाक की समस्या हल हो जाएगी।

राम भक्तों पर गोलियां चलवाने वालों पर भी केस चले:

केवल यही नहीं साध्वी ने सुप्रीम कोर्ट के उस फैसले पर भी निशाना साधा जिसमें कहा गया है कि उमा भारती, लाल कृष्ण अडवाणी और मुरली मनोहर जोशी पर केस चलेगा। साध्वी ने कड़े शब्दों में कहा कि कोर्ट उन लोगों के खिलाफ क्यों नहीं केस चलाती जिन्होंने राम भक्तों पर गोलियां चलाईं और चलवाई थीं।

किसी भी कीमत पर बनेगा राम मंदिर:

उन्होंने बड़ी संख्या में लोगों को मौत के घाट उतरा था, उन लोगों पर भी कोर्ट में केस चलना चाहिए। उन्हें भी जेल भेजा जाना चाहिए। उन्होंने राम मंदिर पर भी अपना बयान दिया। साध्वी प्राची ने कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए हर कीमत पर राम मंदिर बनकर रहेगा। राम मंदिर बनाने से संसार की कोई ताकत नहीं रोक सकती है।

बाबर के नाम की कोई मस्जिद बर्दास्त नहीं होगी भारत में:

अत्याचारी बाबर के नाम की मस्जिद को भारत के किसी कोने में बर्दास्त नहीं किया जायेगा। वह एक क्रूर शासक और लुटेरा था। आपको बता दें साध्वी प्राची आज बाबा अलखनाथ मंदिर में पूजा करने के लिए पहुंची थीं। वहां उन्होंने बाबा का जलाभिषेक किया और मीडिया के सामने अपनी बात रखी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.