तो अब भगवा की आड़ में हमला करेंगे आतंकी, हमला करने के लिए बनाई ऐसी योजना…!

उत्तर प्रदेश भारत की सर्वाधिक जनसंख्या वाला प्रदेश है, यहां हिन्दू और मुसलमान दोनों समुदाय के लोग बड़ी संख्या में हैं. ऐसे में यहां जनता के बीच प्रेम और सौहार्द बना रहता है. लेकिन कुछ लोग प्रदेश की शांति और अमन को खत्म कर देना चाहते हैं. ऐसे में खबर आ रही है कि बहुत जल्द उत्तर प्रदेश में एक बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम दिया जायेगा. मगर ये वारदात कोई भगवा आतंकी अंजाम देगा.

आतंकी साधू और तांत्रिक का वेश धारण करके उत्तर प्रदेश में दाखिल :

मध्य प्रदेश पुलिस ने उत्तर प्रदेश के एंटी टेररिस्ट स्क्वाड को जानकारी दी है कि कुछ आतंकी साधू और तांत्रिक का वेश धारण करके उत्तर प्रदेश में दाखिल हो चुके हैं, यह आतंकी भगवा धारण करके इस हमलें को अंजाम देने की फिराक में हैं. वो किसी बड़े हमले की योजना बना रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी :

खबर यह है कि ये आतंकी उत्तर प्रदेश के प्रमुख मंदिरों, एजुकेशनल इंस्टिट्यूट या फिर किसी ऐसे ही संस्थान को निशाना बना सकते हैं. आतंकियों की टीम में 17-18 साल के लड़के हैं. इतना ही नहीं इन लड़कों को बाकायदा ट्रेनिग भी दी गयी है. मध्य प्रदेश पुलिस से मिली इस जानकारी के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.

इस मामले पर उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी सुलखान सिंह ने बताया कि सभी जिलों के अधिकारियों को चौकसी बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं. सभी अधिकारी अलर्ट पर हैं. उन्होंने बताया कि प्राप्त जानकारी की जांच की जा रही है. बताया जा रहा है कि 17-18 साल के लड़कों को हिन्दू धर्म के रीति रिवाजों की पूरी ट्रेनिंग देकर सन्यासी के वेश में भारत नेपाल बोर्डर के जरिये उत्तर प्रदेश में भेजा गया है.

आतंकियों ने इसे ऑपरेशन कृष्णा इंडिया का नाम दिया है :

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अयोध्या, बनारस, मथुरा, आगरा, इलाहाबाद और लखनऊ जैसे शहरों की प्रमुख इमारतें और तीर्थ स्थल इन आतंकियों के निशाने पर हैं. इनका प्रमुख टारगेट भीडभाड़ वाले इलाके में धमाका करना है. आतंकियों ने इसे ऑपरेशन कृष्णा इंडिया का नाम दिया है.

गौरतलब है कि बीते कुछ समय से उत्तर प्रदेश में आतंकी गतिविधियां बढ़ गयी हैं. बीते कुछ रेल हादसों के पीछे भी आतंकियों का हाथ होने की खबर है. सुरक्षा एजेंसियों की चौकसी और निगरानी के चलते अभी तक आतंकी कोई बड़ा हमला करने में सफल नहीं हुए हैं. हाल ही में यूपी मेंपुलिस कार्रवाई में कई आतंकी पकड़े गए और कुछ के साथ मुठभेड़ भी हुयी.

बताया जा रहा है कि आइएसआइएस उत्तर प्रदेश में अपने पैर जमाने की पूरी कोशिश कर रहा है और इसके लिए उसकी गतिविधियां भी बढ़ गयी हैं. अब कुछ आतंकी संगठन भगवा की आड़ में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देकर भगवा आतंकवाद जैसी चीजों को प्रचारित करने में लगे हैं. जिसका वास्तव में कोई अस्तित्व नहीं है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.