बॉलीवुड

जब बॉलीवुड सितारों ने बच्चों को बताया ‘हम तलाक ले रहे हैं’ तो ऐसा था उनका रिएक्शन

‘तलाक’ पति पत्नी की लाइफ का सबसे बड़ा फैसला होता है। इससे उनके जीवन में उथल पुथल आ जाती है। हालांकि इसका सबसे बुरा असर बच्चों पर पड़ता है। कई बार ये देखा गया है कि तलाक के बाद बच्चों की परवरिश में दिक्कतें आने लगती है। इसके अलावा जब उन्हें अपने माता पिता के तलाक का पता चलता है तो वे भावनात्मक रूप से बहुत कुछ सहते हैं। ऐसा ही कुछ हाल बॉलीवुड सितारों के तलाक के बाद उनके इन बच्चों का भी हुआ।

मलाइका अरोड़ा – अरबाज खान: 18 साल की शादी के बाद जब इस एक्स-कपल ने तलाक लिया तो यह खबर सुन हर कोई हैरान रह गया। मलाइका ने एक इंटरव्यू में बताया था कि मेरे बेटे अरहान के लिए तलाक की बात सुनना मुश्किल था। हालांकि जब उसने देखा कि मैं अलग होने पर ज्यादा मुसकुराती हूं तो वही भी खुश रहने लगा।

फरहान अख्तर – अधुना: फरहान ने शादी के 17 साल बाद अनुधा को तलाक दिया। इस खबर ने सभी को हिला दिया। फरहान ने एक इंटरव्यू में कहा था कि अपनी दोनों बेटियों को तलाक की ये खबर देना बहुत मुश्किल था। बच्चे चीजें देख स्थिति को जल्दी भांप लेते हैं। वे बहुत समझदार होते हैं। इसलिए आपको उन्हें सबकुछ ईमानदारी से बता देना चाहिए।

रितिक रोशन – सुजैन खान: रितिक सुजैन बॉलीवुड के सबसे पॉपुलर कपल थे। इनके तलाक की खबर से फैंस को बहुत दुख हुआ था। रितिक के पापा राकेश रोशन ने एक बार इंटरव्यू में बताया था कि तलाक के बाद भी उनके पोते हर रविवार उनके साथ खान खाने आते हैं। बच्चों की अच्छी परवरिश की खातिर तलाक के बाद भी रितिक सुजैन अच्छे दोस्त की तरह बॉन्डिंग शेयर करते हैं। ऐसे में बच्चों ने भी इनसे एक दूसरे का मान सम्मान करना सीखा है।

सैफ अली खान – अमृता सिंह: सैफ ने उम्र में बड़ी अमृता से शादी रचाई थी। इस शादी से उन्हें सारा अली खान और इब्राहिम अली खान नाम के दो बच्चे हुए। इस एक्स कपल का तलाक बहुत ही कड़वा था। हालांकि इनका तलाक लेना एक सही डीसीजन था। इस बात को खुद सारा ने भी एक इंटरव्यू में स्वीकार किया है। उन्होंने कहा था कि मेरे माता पिता जब साथ थे तो हमेशा लड़ते झगड़ते रहते थे, अब अलग हैं तो खुश हैं। इससे बच्चों को भी हैप्पी महोल मिला।

आमिर खान – रीना दत्त: इन दोनों का जब तलाक हुआ तो बहुत शांति से हुआ। इसमें किसी तरह की कोई कॉन्ट्रोवर्सी नहीं हुई। वहीं तलाक के बाद भी दोनों ने इस बात का पूरा ध्यान रखा कि बच्चों पर इसका कोई नेगेटिव असर न हो। दोनों ने बच्चों की परवरिश में कोई कसर नहीं छोड़ी।

Back to top button
?>