All News, Breaking News, Trending News, Global News, Stories, Trending Posts at one place.

चिकनगुनिया के भयानक दर्द और अन्य तरह के दर्द से निजात पाने के लिए इस्तेमाल करें ये चमत्कारी तेल!

36

आज के समय में इंसान को अनेक तरह की बिमारियों का सामना करना पड़ रहा है। व्यस्त जीवन की वजह से वह अपना ठीक तरह से ख्याल नहीं रख पाता है, इस वजह से उसे इस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। आज के समय में केवल उम्रदराज लोग ही नहीं बच्चे भी कई घातक बीमारियों की वजह से परेशानी झेल रहे हैं।

हड्डियों में होता है भयानक दर्द:

शरीर दर्द एक आम समस्या है, जिससे हर व्यक्ति को दो-चार होना पड़ता है। शायद ही कोई व्यक्ति होगा जिसे दर्द की समस्या ना रहती हो। चिकनगुनिया का दर्द सबसे भयानक दर्द होता है। चिकनगुनिया में हड्डियों में इतना जोरदार दर्द होता है, जिसे व्यक्ति आसानी से सहन नहीं कर पाता है। कई बार दर्द इतना तेज होता है कि जैसे जान निकल जाती है।

आज हम आपको एक ऐसे देशी नुस्खे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका इस्तेमाल करके आप चिकनगुनिया और इसके जैसे ही अन्य भयानक दर्द को बिना दवा खाए ठीक कर सकते हैं। इस तेल को कोई भी बहुत आसानी से अपने घर पर ही बना सकता है। इस तेल को बनाना भी बहुत आसान है।

तेल बनाने के लिए आवश्यक सामग्री:

*- 50 ग्राम तिल का तेल,

*- 50 ग्राम सरसों का तेल,

*- 15 लौंग,

*- 2 चम्मच आजवाइन,

*- 1 टुकड़ा दालचीनी,

*- एक चम्मच मेथी दाना,

*- एक छोटा टुकड़ा पीसा हुआ अदरक,

*- 1 चम्मच हल्दी,

*- 1 चम्मच एलोवेरा जेल,

*- 2 बड़े टुकड़े कपूर।

चमत्कारी तेल बनाने की विधि:

सबसे पहले गैस पर कड़ाही रखकर उसे गर्म करें, इसके बाद उसमें सरसों और तिल का तेल डालकर तेज आंच पर गर्म करें। थोड़ी देर बाद गैस धीमा करके हल्दी और कपूर को छोड़कर बाकी सभी चीजें डाल दें। सभी चीजें डालने के बाद लगभग 20-25 मिनट तक तेल को गर्म करते रहें। जब सभी चीजें जल जाएं और उनका अर्क तेल में आ जाये और उसका रंग गहरा हो जाए तो गैस को बंद कर दें।

इसके बाद उसमें हल्दी और कपूर मिला दें। जब कपूर अच्छी तरह से घुल जाए तो तेल को छानकर एक शीशी में भर लें। जब भी आपके शरीर में कोई भी दर्द हो तो इस तेल से मालिश करें पल भर में आपका भयानक दर्द दूर हो जायेगा। जब भी आप कोई दवाई लें तो डॉक्टर की सलाह के बिना उसे ना खाएं। चिकनगुनिया में यह तेल बहुत फायदेमंद होता है। इस तेल को आप दिन में तीन बार दर्द वाले स्थान पर लगाकर अच्छे से मालिश करें।

Comments are closed.