बॉलीवुड

शादी के 21 साल बाद अजय और काजोल ने लिया अलग रहने का फैसला, इस वजह से उठाया कदम

बॉलीवुड के सिंघम कहे जाने वाले अभिनेता अजय देवगन और उनकी पत्नी यानी अभिनेत्री काजोल ने अलग रहने का फैसला कर लिया है। जी हां, दोनों अब अलग अलग रहेंगे। चौंकिए मत, तलाक या डिवोर्स जैसा कुछ नहीं हुआ है बल्कि दोनों ने अपनी बेटी की खातिर ये फैसला लिया है। आइये जानते हैं, आखिर क्या है पूरा मामला…

दरअसल काजोल और अजय की बेटी न्यासा देवगन सिंगापुर में रहकर पढ़ाई करती हैं, लेकिन इन दिनों कोरोना वायरस महामारी के कारण दुनिया भर में संकट के हालात पैदा हुए हैं। इस वजह से न्यासा पिछले काफी दिनों से इंडिया नहीं लौट पा रही हैं। लिहाजा काजोल और अजय ने ये फैसला किया है कि काजोल बेटी के पास रहने सिंगापुर जाएंगी और अजय मुंबई में रहकर बेटे युग की देखभाल करेंगे।

हालांकि कपल्स के लिए ऐसा कर पाना काफी कठिन होता है, क्योंकि लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशेनशिप में कई तरह की समस्याएं आती हैं, तो आज हम अपने इस आर्टिकल में इसी विषय पर आपको विस्तार से जानकारी देंगे।

मिस करना

लव और रिलेशनशिप के एक्सपर्ट्स कहते हैं कि जब कपल एक दूसरे से दूर रहते हैं, तो कपल्स के बीच एक अजीब से ऐंग्जाइटी आती है, ये ऐंग्जाइटी तभी आती है जब आप अपने साथी के साथ नहीं रहते हैं। कहा जाता है कि कुछ दिनों तक तो दूरी बर्दाश्त हो जाती है, लेकिन उसके बाद यही दूरी आपके अंदर चिड़चिड़ापन पैदा करती है और ये चिड़चिड़ापन कभी कभी डिप्रेशन का भी रूप ले लेती है। ये कहा जाना गलत नहीं होगा कि अगर कपल्स एक दूसरे से दूर रहते हैं, तो इसका बुरा असर उनके इमोशनल हेल्थ पर पड़ता है।

गलतफहमी

कपल्स जब दूर रहते हैं, तो मिस कम्यूनिकेशन सबसे अधिक होता है। इसकी वजह से कपल्स के बीच गलतफहमियां होने लगती हैं। इसके उलट जब कपल एक दूसरे के साथ रहते हैं, तो वो अपनी हर बात शेयर करते हैं, इससे वे एक दूसरे को बेहतर तरीके से समझते हैं। वहीं अगर लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप होता है, तो निश्चित रूप से गलतफहमियां जन्म लेती हैं। मसलन, जब आपका पार्टनर किसी काम में बिजी हो और आपसे बात नहीं कर पा रहा हो तो आपको लग सकता है कि आपका साथी आपको इग्नोर कर रहा है, ऐसी  चीजें झगड़ों को जन्म देती हैं।

जलन

कई बार ऐसा होता है कि काम में बिजी रहने के कारण कपल्स एक दूसरे से महीनों और यहां तक कि सालों तक लॉन्ग डिस्टेंस में रहते हैं। ऐसे में जो जहां रहता है वहां उसका सर्कल डेवलेप हो जाता है और वो वहां की एक्टिविटीज में शामिल होने लगता है। लिहाजा कपल्स एक दूसरे के प्रति इनसिक्योर होने लगते हैं, इससे मन में पार्टनर के लिए जलन की भावना पैदा होने लगती है।

अकेलापन

कपल जब साथ में रहते हैं, तो उनकी जिंदगी की हर छोटी से छोटी चीज एक दूसरे से जुड़ी रहती है। इसके बाद जब उन्हें लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में रहना पड़ता है, तो उनकी जिंदगी में खालीपन आने लगता है। चाहे वो अपने कितने ही दोस्तों से घिरे हुए क्यों न हों लेकिन साथी के पास न होने के कारण वो अकेलापन महसूस करने लगते हैं।

तनाव

लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में कपल के बीच तनाव बढ़ने लगता है और इससे झगड़े भी होते हैं। पार्टनर के बिना सब कुछ अकेले संभालना, बात न कर पाना और वर्क लोड जैसी चीजों से तनाव बढ़ने लगता है। इसका असर शारीरिक स्वास्थय पर तो पड़ता ही है और साथ ही मानसिक स्वास्थय भी खराब होने लगती है। लिहाजा आपको इससे निपटने के लिए किसी काउंसलर की मदद भी लेनी पड़ सकती है।

Back to top button
?>