आतंकियों से मुठभेड़ कर रही सेना पर हुई ‘पत्थरबाजी’, सेना ने ‘पत्थरबाजों’ को उतारा मौत के घाट!

जम्मू कश्मीर – कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा इलाके में आज सेना और आतंकियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ हुई, इस दौरान सेना को स्थानीय कश्मीरियों के विरोध का सामना करना पड़ा। मुठभेंड में एक आतंकी मारा गया जबकि मुठभेड़ स्थल के पास पथराव कर रहे पत्थरबाजों को जवाब देते हुए सेना ने तीन पत्थरबाजों को मौत के घाट उतार दिया। सेना के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मुठभेंड़ में एक आतंकी मारा गया इस दौरान अर्धसैनिक बल का एक जवान भी घायल हो गया। Encounter forces and militants.

सेनाध्यक्ष की चेतावनी, ‘पत्थरबाजों’ को मिलेगा जवाब –

‘पत्थरबाजों’ की आज की हरकत पर सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने कहा कि सुरक्षा बलों के ऑपरेशन में जो कोई भी बाधा डालेगा उससे सेना सख्ती से निपटेगी। एक रिपोर्ट के मुताबिक सेना के जवानों को सरकार की ओर से साफ निर्देश दिया गया है कि वे पत्थरबाजी होने पर लाठियां छोडकर, राइफल उठाएं। जम्मू कश्मीर में स्थानीय लोग सुरक्षा बलों के ऑपरेशन में बाधा डाल रहे हैं, जिसके कारण जवानों को नुकसान हो रहा है।

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि जो लोग आतंकियों के एनकाउंटर में बाधा डाल रहे हैं वो भी आतंकियों के जैसे ही हैं। आतंकी लगातार पुलिसकर्मियों के घरों को निशाना बना रहे हैं। सोमवार को भी कश्मीर के शोपियां में आतंकियों ने 2 पुलिसकर्मियों के घर पर हमला किया।

एनकाउंटर के दौरान सेना पर पथराव, 60 जवान घायल –

पत्थरबाज आतंकवादियों और सुरक्षाबलों के बीच हो रही मुठभेड़ में आतंकियों की ढाल बन रहे हैं। जिसके कारण बड़ी संख्या में सीआरपीएफ और पुलिस के जवान घायल हो गए। मुठभेड़ के दौरान पथराव कर रहे पत्थरबाजों पर आज सेना ने कार्रवाई की जिसमें 3 पत्थरबाजों की भी मौत हो गई, जबकि 19 लोग घायल हुए। पत्थरबाजी में सीआरपीएफ और पुलिस के 63 जवान भी घायल हो गए हैं। सुरक्षाबलों को मुठभेड़ में एक तरफ आतंकवादियों से तो दूसरी तरफ आतंकियों से सहानुभूति रखने वाले पत्थरबाजों से निपटना पड़ रहा है।

ये पत्थरबाज सुरक्षाबलों की कार्रवाई में बाधा डालने की कोशिश कर आतंकवादियों को बचा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.