गुजरात में दंगाः 5000 लोगों की भीड़ ने किया हमला, सैकड़ों मुस्लिम परिवारों ने छोड़ा गांव!

नई दिल्ली – गुजरात में 15 सालों बाद एक बार फिर दंगे जैसे हालात बनने जा रहे हैं। गुजरात के पाटन जिले में वडवाली गांव में शनिवार को हिन्दों और मुसलमानों के बीच झड़प हो कई जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई और 12 लोग घायल हो गए। मरने वालों में एक 25 साल का लड़का इब्राहिम बेलिम और एक 50 साल का शख्स शामिल है। बताया जा रहा है कि 5000 लोगों ने गांव के मकानों और वाहनों में आग लगा दी। मौके पर पुलिस अधिकारी और राज्य रिजर्व पुलिस दल को तैनात कर दिया गया है। communal clash in Gujarat.

communal clash in Gujarat

दो बच्चों की लड़ाई में भड़क उठे दंगे –

इस सांप्रदायिक हिंसा के पीछे का कारण बहुत ही मामूली था। दरअसल, दसवीं की परीक्षा देने आए दो समुदायों के दो छात्रों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था। इसके बाद इस लड़ाई में बाकी के छात्र भी शामिल हो गए। इसी बीच किसी छात्र ने जाकर गांव के लोगों को बता दिया।

इसके बाद उस गांव के लगभग 5000 लोगों की भीड़ ने दूसरे समुदाय ने बिना सोचे समझे वडवाली गांव पर हमला बोल दिया। इस दौरान भीड़ ने 20 घरों में आग लगा दिया। हालांकि, सूचना मिलते ही पुलिस ने मौके पर पहुंच कर हिंसा पर नियंत्रण पा लिया जिसके लिए पुलिसो को लाठी चार्ज करना पड़ा और आंसू गैसे के गोले छोड़ने पड़े।

मौके पर पुलिस तैनात, पूरे इलाके में तनाव –

घटना के बाद से पूरे इलाके में तनाव का माहौल है और बड़ी तादाद में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। राज्य रिजर्व पुलिस की दो यूनिट को गांव में तैनात किया गया है। फिलहाल हालात नियंत्रण में हैं। हादसे के बाद सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है और पुलिस सभी आरोपियों को तलाश कर रही है।

पाटन जिले के प्रभारी रेंज आईजी आर.बी. ब्रह्मभट्ट ने बताया कि हिंसा की शुरुआत वडवली गांव में SSC परीक्षा के खत्म होने के बाद स्कूली बच्चों के बीच हुए मामूली झगड़े से हुई। उन्होंने बताया कि, बच्चों के बीच हुए विवाद में बड़े भी आ गये जिसके कारण दो समुदायों के बीच संघर्ष की स्थिती हो गई। लोग सड़कों पर उतर गए और एक दूसरे पर पथराव करने लगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.