समाचार

इन 52 चीनी मोबाइल एप्प से यूजर्स को है खतरा, तुरंत फ़ोन से करें यूनिस्टाल: भारतीय खुफिया एजेंसी

भारतीय खुफिया एजेंसियों ने सरकार को चीन से लिंक वाली 52 मोबाइल एप्लीकेशन की एक लिस्ट दी है. उन्होंने सरकार से कहा है कि वे इन एप्लीकेशंस को बैन कर दे या लोगों से अपील करें कि वे इनका इस्तेमाल करना बंद कर दें. उन्हें इस बात की चिंता है कि इन एप्लीकेशंस का इस्तेमाल करना सेफ नहीं है. ये चोरी छिपे बड़े पैमाने पर हम भारतियों का डेटा इंडिया के बाहर भेज सकती है.

सुरक्षा स्थापना (security establishment) द्वारा सरकार को जिन एप्लीकेशंस की लिस्ट भेजी गई है उसमे कई पॉपुलर एप्प शामिल है. जैसे विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग एप्प Zoom, शार्ट विडियो एप्प TikTok और UC browser, Xender, SHAREit Clean-master इत्यादि.

भारतियों के लिए खतरा है चीनी एप्प

एक सीनियर सरकारी अधिकारी ने बाताया कि ख़ुफ़िया एजेंसियों द्वारा दिए गए इस सुझाव का राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद सचिवालय (National Security Council Secretariat) ने समर्थन किया है. उनका मानना है कि ये एप्प भारतीय सुरक्षा के लिए हानिकारक हो सकती है. एक अधिकारी के अनुसार इस सुझाव पर विचार विमर्श जारी है. उन्होंने कहा कि पहले हर मोबाइल एप्प से जुड़े पेरामीटर और रिस्क का आकलन किया जाएगा.

यहाँ देखें पूरी लिस्ट

भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसियों की रेडार पर ये चीनी एप्प है – तुरंत अपने फ़ोन से इन्हे हटाएँ

 

APP LISTSParallel Space
360 SecurityPerfect Corp
APUS BrowserPhoto Wonder
Baidu MapQQ International
Baidu TranslateQQ Launcher
BeautyPlusQQ Mail
Bigo LiveQQ Music
CacheClear DU apps studioQQ NewsFeed
Clash of KingsQQ Player
Clean Master – CheetahQQ Security Centre
ClubFactoryROMWE
CM BrowserSelfieCity
DU Battery SaverSHAREit
DU BrowserSHEIN
DU CleanerTikTok
DU PrivacyUC Browser
DU recorderUC News
ES File ExplorerVault-Hide
HeloVigo Video
KwaiVirus Cleaner (Hi Security Lab)
LIKEVivaVideo QU Video Inc
Mail MasterWeChat
Mi CommunityWeibo
Mi StoreWeSync
Mi Video call-XiaomiWonder Camera
NewsDogXender
YouCam Makeup

List No. 2

Tencent PUBG
B612
BeautyCam
Cam Scanner
Candy
Filmora
InShot
Power Director
Qu Video
Turbo VPN
U Dictionary
WPS Office
ZOOM

सरकारी कामों में Zoom पर बैन

गौरतलब है कि इस साल अप्रैल में गृह मंत्रालय ने एक एडवाइजरी जारी की थी जिसमें सरकारी कामों में विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग एप्प Zoom पर प्रतिबंध लगाया गया था. इसका सुझाव उन्हें नेशनल साइबर सिक्यूरिटी एजेंसी Computer Emergency Response Team of India (CERT-in) ने दिया था. बता दें कि भारत कोई पहला देश नहीं है जिसने सरकारी क्षेत्र में Zoom के इस्तेमाल पर रोक लगाई हो. इसके पहले ताइवान, जर्मनी और यूनाइटेड स्टेट्स भी ऐसा कर चूका है.

इसके पहले भी लोगों के डेटा की सुरक्षा के साथ समझौता करने वाली कंपनियों पर उँगलियाँ उठती रही है. ऐसे में बड़ी और ज्यादा लोकप्रिय कम्पनियाँ इससे इंकार करती आई है. उदहारण के लिए चीनी इंटरनेट कंपनी ByteDance द्वारा निर्मित पॉपुलर विडियो शेयरिंग एप्प TikTok ने इस बात से इंकार किया था कि वे यूजर्स की सुरक्षा के साथ समझौता कर रहे हैं.

हालाँकि अधिकारीयों का कहना है कि चीनी डेवलपर्स या चीनी कंपनी द्वारा लॉन्च की गई Android और iOS को spyware या malicious ware की तरह संभावना बनी हुई है. सिक्यूरिटी एजेंसियों ने भी सिक्यूरिटी से संबंधित काम करने वाले सभी डिपार्टमेंट को सलाह दी है कि वे इस तरह की चीनी एप्प का इस्तेमाल ना करें. सिर्फ इंडियन ही नहीं बल्कि वेस्टर्न सिक्यूरिटी एजेंसियां भी इन चीनी एप्प के इस्तेमाल पर सुरक्षा की चिंता जाहिर कर चुकी है. सबसे बड़ी चिंता का विषय ये हैं कि चीन भारत संग विषम परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल गलत काम के लिए कर सकता है.

Back to top button