प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अजमेर शरीफ में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह के लिए चादर भेंट की…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जो लोग मुस्लिम विरोधी के चश्में से देखते हैं, उन्हें ये खबर जरूर पढ़नी चाहिए. पीएम मोदी के राजनीति करने का तरीका एकदम अलग है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जाति, धर्म और संप्रदाय से ऊपर उठकर सबका साथ-सबका विकास की बात करते हैं. वो सिर्फ बातें नहीं करते, बल्कि उनकी कार्यशैली भी उनके वादे को प्रमाणित करती है. यही वजह है कि शुक्रवार को पीएम मोदी ने अजमेर में ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर चढ़ाने के लिए भेजी है.

PM मोदी ने ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर चढ़ाने के लिए भेंट की :

दरअसल नरेंद्र मोदी ने अल्पसंख्यक कार्य राज्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह को ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर चढ़ाने के लिए भेंट की.

बताया जा रहा है कि ये चादर ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के 815वें उर्स पर दरगाह के बुलंद दरवाजे पर चढ़ाई जाएगी. बताया ये भी जा रहा है कि उर्स को लेकर सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. पुलिस की चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था की गई है.

इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संदेश में कहा, ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के वार्षिक उर्स के अवसर पर मैं विश्व-भर में उनके अनुयायियों को शुभकामनाएं और बधाई देता हूं. ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती देश की महान आध्यात्मिक परम्परा के प्रतीक हैं.

आपको बता दें कि उर्स के लिए देश ही नहीं, बल्कि दुनिया भर के लोग अजमेर शरीफ दरगाह पर अपनी मन्नत मांगने पहुंचते हैं. इस दरगाह पर हिंदू-मुस्लिम सभी समुदाय के लोग अपनी मन्नतें मांगने जाते हैं. इनके अनुयायियों की संख्या देश-विदेश तक में फैली है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.