लखनऊ – अक्सर देखा जाता है कि जब स्कूल-कॉलेज में छुट्टी होती है तो सड़क छाप ‘मजनू’ बाइक लेकर लड़कियों के आगे पीछे चक्कर लगाते दिखते हैं और फब्तियां कसते हैं। अगर आपको पता ना हो तो हम आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में यह काफी ज्यादा होने लगा है। लड़कियों को राह चलते छेड़ने की घटनाएं इतनी बढ़ गई हैं कि कुछ परिवारों ने अपने घर की लड़कियों का स्कूल-कॉलेज जाना ही बंद करा दिया। लेकिन कहते हैं न कि हर बुराई का दिन होता जब वो खत्म होती है। तो सूबे में योगीराज के आते ही पुलिस के अंदाज बिल्कुल बदले-बदले से नजर आने लगे हैं। Anti Romeo Squad takes action.

शोहदों की शामत, एंटी रोमियो दल तैनात –

विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने अपने मैनिफेस्टो में महिला सुरक्षा और ईव टीसिंग को लेकर एंटी रोमियो दल बनाने का वादा किया था, जिसे योगी ने मुख्यमंत्री बनते ही पूरा कर दिया है। राजधानी में शोहदों की धर-पकड़ के लिए हर थाना क्षेत्र में एंटी रोमियो दल बना लिया गया है।

पुलिस काफी एक्टिव नजर आ रही है, जिन गलियों में पुलिस कभी जाती भी नहीं थी वहां आज पुलिस ने चेकिंग अभियान चला रखा है। इस दौरान गर्ल्स कॉलेजों के बाहर खड़े आधा दर्जन से अधिक रोमियो को पुलिस ने हिरासत में लेकर थाने भेज दिया है। पुलिस के इस एंटी रोमियो अभियान से स्कूल कॉलेजों में भगदड़ मची हुई है।

 

एंटी रोमियो दल को लोगों ने सराहा –

छेड़खानी और उत्पीड़न से परेशान लड़कियों और छात्राओं की सुरक्षा के लिए बीजेपी ने एंटी रोमियो स्क्वॉड के गठन की बात की थी। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने चुनाव प्रचार के दौरान वादा किया था कि यूपी में सत्ता में आते ही लड़कियों और छात्राओं को मनचलों से बचाने के लिए खास दस्ता बनाएंगे। वह बन चुका है और लोग इसकी खूब तारिफ भी कर रहे हैं।

लड़कियां एंटी रोमियो दल को खूब सराह रही हैं। यूपी में सरकार बनने के बाद से सीएम आदित्यनाथ एक्शन में हैं। इस अभियान की शुरुआत लखनऊ के सहारागंज और हजरतगंज इलाकों से की गई है। गौरतलब है क‌ि रविवार की रात को राजधानी के चौराहे पर छींटाकशी कर रहे शोहदों को सबक सिखाने के लिए एक लड़की ने एक शोहदे की जमकर धुनाई कर दी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

error: Content is protected !!