विशेष

जानिए कैसे मनाया जा रहा है ‘हैप्पी बर्थडे भारत’, उन बच्चों के लिए जिनहे नहीं पता अपना जन्मदिन

रोज़मर्रा अपने और अपने परिवारजनों को जन्मदिन मानते हुए हम भूल जाते हैं इस देश की सड़कों पर रहने वाले अनेक बच्चे हैं जिन्हें अपना जन्मदिन तक पता नहीं होगा। परंतु  एक व्यक्ति ऐसे भी हैं जो ऐसे बच्चों का जन्मदिन मनाता है। दो हजार से ज्यादा लोगों के लिए करने वाला व्यक्ति  और लोगों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित किया है। यह इंसान बच्चों के चेहरों पर खुशी और मुस्कुराहट लाने के अपनी तरह का अनुठा प्रयास कर रहा है। इनका नाम है अविजित बाजपेयी और ये 31 वर्षीय मार्केटिंग प्रॉफेश्नल हैं ।
जानिए कैसे मनाया जा रहा है 'हैप्पी बर्थडे भारत', उन बच्चों के लिए जिनहे नहीं पता अपना जन्मदिन

अविजित ने बताया,’पिछले साल जुलाई में जब मैं ऑफिस जा रहा था, तो मैं रेड लाइट पर रुका, कुछ बच्चों ने कार के शीशे को खटखटाया और पैसे मांगे उनके साथ कुछ बच्चे और भी थे। मैंने देखा वे बच्चे बर्थडे पार्टी के बचे हुए सामान से खेल रहे हैं उस सामान में केक बॉक्स, कैप्स, प्लास्टिक का चाकू और भी कई चीजें थीं। सिग्नल ग्रीन हुआ और वे बच्चे पीछे हट गए और फिर रेड लाइट होने का इंतेजार कर ने लगे ताकि वे दोबारा भीख मांग सकें।’

कुछ देर के बाद सब अपनी जिंदगी में उसी तरह मसरूफ हो गए लेकिन अविजित की जिंदगी में बच्चों की कूड़े से उठाए हुए बर्थडे पार्टी के बचे हुए सामान से खेलने की घटना उनके दिमाग में बैठ गई। तो उन्होंने आगे बढ़कर एक ट्वीट किया कि वह दिल्ली की झोपड़ियों में रहने वाले जरूरतमंद बच्चों का जन्मदिन मनाना चाहते हैं। इस ट्वीट पर अच्छा रिस्पॉन्स मिला और कई लोगों ने ट्वीट कर उनसे कहा कि वे भी ऐसे बच्चों का जन्मदिन मनाना चाहेंगे

अधिक जानें अगले पेज पर

1 2Next page

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close