ब्रेकिंग न्यूज़

यूपी में ‘योगी’ युग का शुभारंभ, सीएम बनते ही कर दिए हैं ये पांच बड़े ऐलान!

नई दिल्ली – उत्तर प्रदेश में ‘योगी’ युग की शुरुआत हो चुकी है। योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बन चुके हैं। मुख्यमंत्री बनते ही उन्होंने पीएम मोदी के ‘सबका साथ-सबका विकास’ नीति पर चलने का एलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बिना किसी भेदभाव के समान रूप से कार्य करेगी। सरकार में गरीब, दलित, पिछड़ों के लिए विशेष प्रयास होंगे। सरकार नागरिकों के लिए अच्छा भोजन, आवास, पेयजल, शौचालय और कानून व्यवस्था को बेहतर करेगी। क्योंकि, प्रदेश का बड़ा हिस्सा खेती पर आधारित है, इसलिए सरकार का यह प्रयास होगा कि कृषि प्रदेश के विकास का आधार बने। Yogi adityanath in action.

15 दिन में संपत्ति घोषित करेंगे मंत्री –

योगी आदित्यनाथ यूपी का सीएम बनते ही ऐक्शन में आ गए हैं। रविवार को उन्होंने अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने सबका साथ, सबका विकास के एजेंडे के साथ काम करने का मोदी सरकार का वादा दोहराया। योगी ने अपने सभी मंत्रियों को 15 दिन के भीतर संपत्ति का ब्यौरा देने का आदेश दिया है।

मंत्री अनाप-शनाप बयान से दूर रहें –

अपने बयानों से अक्सर विवाद में रहने वाले योगी आदित्यनाथ ने यूपी का सीएम बनते ही अपने सभी मंत्रियों को शख्त निर्देश दिया है कि वे अनाप-शनाप बयान से दूर रहें। उन्होंने उत्तर प्रदेश की वर्तमान स्थिति के लिए पिछली सरकारों को जिम्मेदार ठहराया। साथ ही कहा कि राज्य के विकास के लिए सरकार सकारात्मक कदम उठाएगी।

युवाओं को रोजगार देने पर फोकस –

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार युवाओं के सपनों को साकार करने के लिए रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपने संकल्प पत्र में किए गए सभी वादों को पूरा करेगी।

यूपी सरकार के लिए दो प्रवक्ताओं की नियुक्ति –

अपने कार्यकाल के पहले ही दिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने दो मंत्रियों श्रीकांत शर्मा और सिद्धार्थ नाथ सिंह को यूपी सरकार का प्रवक्ता नियुक्त किया है। आपको बता दें कि ये दोनों नेता पहले पार्टी के दिल्ली मुख्यालय में मीडिया सेल के प्रभारी थे।

सरकार देगी ग्रामीण इलाकों पर विशेष ध्यान –

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि उनकी सरकार में खेती को विकास का आधार बनाया जाएगा। किसानों का विकास ही सरकार की पहली प्राथमिकता होगी। उन्होंने यह भी ऐलान किया कि राज्य के ग्रामीण इलाकों के विकास के लिए अलग से योजना बनायी जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close