नई दिल्ली यूपी में बीजेपी की प्रचंड जीत से ड्रैगन चीन के होश ठिकाने आ गये हैं और वह बुरी तरह से डर गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बढ़ती लोकप्रियता और ताकत से चीन को डर सता रहा है। चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि यूपी में बीजेपी के इस प्रकार से जीतने के बाद चीन और भारत के संबंधों में और सख्ती आएगी और भारत विकास की दौड़ में और तेज से आगे बढ़ेगा। अखबार ने लिखा है कि अब प्रधानमंत्री मोदी की हार्डलाइनर छवि और मजबूत होगी। भारत अब चीन जैसे देशों के साथ किसी प्रकार की नरमी नहीं बरतेगा। मोदी सरकार से पहले जहां भारत वैश्विक स्तर पर रक्षात्मक रवैया अपनाता था, वहीं अब वह बहुत ही आक्रामक दिखाई देने लगा है। China is afraid of bjps victory.

China is afraid of bjps victory

चीन ने कहा – बोल्ड और ताकतवर मोदी हमारे लिए ठीक नहीं –

आपको बता दें कि ग्लोबल टाइम्स चीन की कम्युनिस्ट पार्टी का अखबार है, जिसका मुख्य ध्यान विदेश मामलों पर होता है। अखबार ने एक लेख प्रकाशित किया है जिसमें कहा गया है कि बीजेपी की विशाल जीत का मतलब है कि अब वह अंतरराष्ट्रीय विवादों में किसी तरह का समझौता नहीं करेगा। ग्लोबल टाइम्स के लेख में अनुमान जताया गया है कि 2019 के लोकसभा चुनावों में भी बीजेपी को ही जीत मिलेगी।

इस लेख में आगे लिखा गया है कि, ‘पेइचिंग और नई दिल्ली के आपसी सीमा विवाद में मोदी ने भारत-चीन सीमा पर तैनात भारतीय सेना के जवानों के साथ दिवाली मनाकर इस सीमा विवाद पर अपने सख्त रुख का परिचय दिया।’ पीएम मोदी ने अमेरिका और जापान के साथ रक्षा संबंधों को काफी मजबूत किया है और एशिया-प्रशांत क्षेत्र को फिर से संतुलित करने की अमेरिकी नीति को समर्थन दिया है।

पीएम मोदी अब आसानी से लेंगे बोल्ड फैसले –

ग्लोबल टाइम्स के लेख में यह भी कहा गया है कि नोटबंदी जैसे बोल्ड फैसले लेकर मोदी ने पहले ही दिखा दिया है कि वे किस प्रकार के नेता हैं और अब तो वे और ताकतवर हो गये हैं। पीएम मोदी ने दुनिया के सामने नए भारत को रखा है। विदेश नीति के मामले में मोदी की अगुवाई में भारत ने रक्षात्मक नीति छोड़कर आक्रामक नीति अपना ली है, जिसका उदाहरण हम पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक के रूप में देख चुके हैं।

चीनी अखबार के इस लेख में कहा गया है कि यूपी की जीत से पीएम मोदी के 2019 के लोकसभा चुनाव में जीत की संभावना और प्रबल हो गई है। अखबार के मुताबिक चीन में रणनीतिक मामलों के विशेषज्ञ इस बात पर लागातार नजर रखे हुए हैं कि मोदी के ताकतवर होने से भारत और चीन के रिश्तों पर क्या असर होगा? गौरतलब है कि हाल के दिनों में सीमा विवाद को लेकर भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ा है।

***

Leave a Reply

Your email address will not be published.