विशेष

वीडियोः देखें कैसे एक ईमानदार ऑफिसर ने निकाल दी बेइमानों की हेकड़ी! ऐसे ही जज्बे से बदलेगा देश!

नई दिल्ली – देश में हमेशा से हमने बेइमान और घुसखोर ऑफिसर देखें हैं। एक काबिल, ईमानदार और कड़क ऑफिसर शायद ही किसी विभाग में मिलते हैं। ऐसे ऑफिसर कम मिलते हैं जिनपर नेताओं का दबाव या पैसो का लालच न हो। आजादी के सत्तर सालों में देश को भ्रष्टाचार के घुन ने खोखला बना दिया है। कई बार तो आम आदमी को लगता है कि ईमानदार होना गुनाह है। ईमानदार लोग अगर सरकारी कार्यालय में अपना कोई काम करवाने जाएं तो उन्हें दफ्तरों के चक्कर लगाते चप्पलें घिस जाती हैं, पर काम नहीं हो पाता। देश में नौकरशाही में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त और प्रभावी कदम उठाना समय की मांग है। शायद इसीलिए पीएम मोदी ने नोटबंदी जैसे सख्त कदम भी उठा लिये। IAS officer catch doctors corruption.

 

भ्रष्ट डॉक्टरों की लगाई क्लास, मीडिया के सामने जमकर लताड़ा –

इन दिनों जब पूरे देश के सामने भ्रष्टाचार सबसे बड़ी चुनौती के रुप में खड़ा है, एक ऐसा वीडियो सोशल मीडिया पर खुब वायरल हो रहा है जिसमें एक आईएएस ऑफिसर मीडिया के सामने भ्रष्ट डॉक्टरों को जमकर लताड़ रहा है। इसमें कोई शक़ नहीं कि भारत में डॉक्टर इंग्लैंड के डॉक्टरों से कहीं ज़्यादा अमीर हैं। उनके पास पैसे की कोई कमी नहीं है। ये पैसा उनके पास कहा से आया। दरअसल, ऐसे बेइमान डॉक्टर मरीज से हर बात का पैसा वसूलते हैं। आपको बता दें कि अस्पतालों में कुछ निश्चित दवाओं को रखने अनिवार्य होता है, लेकिन ये डॉक्टर ऐसी दवाओं को भी बाहर से मंगवाते हैं और वहां उनका कमीशन फिक्स होता है।

वायरल हो रहे इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि ये ऑफिसर डॉक्टरों द्वारा ऐसी दवाओं को जिन्हें अस्पताल में रखा जाना अनिवार्य है, बाहर से लिखे जाने के कारण नाराज़ है जमकर डांट लगाई है। आपको बता दें कि यह मामला राजकीय सुशीला अस्पताल नैनीताल का है जहां भ्रस्टाचार का खुला खेल चल रहा था। यहां के डी.एम. दीपक रावत ने इस पूरे खेल पर संज्ञान लेते हुए छापा मारा और भ्रष्ट डॉक्टरों को सबके सामने धर दबोचा।

 

वीडियोः देखें कैसे इस ईमानदार ऑफिसर ने निकाल दी बेइमान डॉक्टरों की हेकड़ी –

Back to top button