जब ज्वालामुखी में गिर कर भी जिंदा बच गया ये शख्स!

कहते हैं जाको राखे साईयां, मार सके ना कोए. कुछ ऐसा ही हुआ है अर्जेंटीना के एक वॉल्केनो एक्सपर्ट के साथ. 60 साल के अर्जेंटीना के रुडोल्फ अल्वारेस मसाया वॉल्केनो के क्रेटर में अपने निकरागुआ के 25 साल के गाइड ऐड्रिक वैलाद्रेज के साथ रस्सी टूटने की वजह से गिर गये.

ज्वालामुखी में गिरकर भी बच गये :

रुडोल्फ अपने गाइड के साथ निकरागुआ के एक सक्रिय ज्वालामुखी में गिरकर भी बच गये. यह ज्वालामुखी मसाया वॉल्केनो, मानागुआ के 12 मील दक्षिण में स्थित हैं. यह ज्वालामुखी पहली बार 1772 में भड़क उठा था. बाद में, साल 2001 में इस ज्वालामुखी में फिर से भयानक विस्फोट हुआ और क्रेटर से 500 मीटर की दूरी तक लावा और चट्टानें निकली थीं. इस घटना में एक सैलानी घायल भी हो गया था.

दोनों के ज्वालामुखी में गिरने के साथ एक स्थानीय फायरमैन रस्सी और कुदाल की मदद से क्रेटर में उतरकर इन दोनों की जान बचा ली. सरकारी सूत्रों के मुताबिक, अल्वारेस और उनके गाइड दोनों ही अच्छी हालत में और स्थिर हैं. हालांकि क्रेटर के भीतर भारी गर्मी के कारण दोनों को डिहाइड्रेशन हो गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.