जिस घर में होते हैं ये 5 काम, वहां कभी नहीं होता परिवार का बंटवारा, प्रेम-स्नेह बना रहता हैं

आज के ज़माने में जॉइंट फैमिली ज्यादा दिनों तक टिक नहीं पाती हैं. खासकर घर में बेटों की शादी होने के बाद उनका बंटवारा हो ही जाता हैं. ये देख सबसे ज्यादा दुःख माता पिता को होता हैं. ऐसे में आज हम आपको कुछ ख़ास टिप्स दे रहे हैं. यदि आप घर में हमारी सलाह मानते हैं तो इस बात के चांस ज्यादा हैं कि आपके परिवार का कोई बंटवारा नहीं होगा.

1. बच्चों को अच्छे संस्कार देना:

जिस घर में माता पिता बचपन से ही बच्चों को अच्छे संस्कार देते हैं, सभी के साथ मिलजुल कर और प्रेम पूर्वक रहना सिखाते हैं वहां भविष्य में परिवार का बंटवारा होने का चांस कम हो जाता हैं. हर पेरेंट्स को चाहिए कि वो बच्चों को रिश्ते नाते की वेल्यु करना सिखाए. एक दुसरे से सम्मान पूर्वक बातचीत करना सिखाए. आपके संस्कारों में इतना दम होना चाहिए कि नई बहू से लेकर पैसा का लालच तक कोई भी चीज घर का बंटवारा ना करा पाए.

2. प्रापर्टी का बराबर हिस्सा:

कई बार माता पिता को एक बच्चा दुसरे बच्चे से ज्यादा प्रिय होता हैं. ऐसे में वो एक को प्रापर्टी का अधिक हिस्सा दे देते हैं जबकि दुसरे को कम देते हैं. ये चीज बच्चों के बीच तनाव पैदा कर देती हैं. उनके अंदर लड़ाई झगड़े होने लगते हैं. इसलिए आप शुरू से इस बात को लेकर क्लियर रहीए कि आप सभी को अपनी प्रापर्टी और दौलत में से बराबर का हिस्सा ही दे.

3. बहू को फूट डालने से रोकना:

कुछ विशेष मामलों में घर की नई बहू के आने के बाद परिवार का बंटवारा हो जाता हैं. ऐसे में घर के बेटे का ये फर्ज होता हैं कि वो शादी के पहले ही अपनी होने वाली बीवी से लसार कर दे कि चाहे कुछ भी वो जाए वो अपने भाई या माँ बाप को छोड़ दूसरी जगह नहीं जाएगा. इसके साथ ही घर के सभी सदस्य यही कोशिश करे कि घर की सभी बहूएं और सांस ससुर आपस में मिलजुलकर रहे. एक दुसरे का ख्याल रखे. उन्हें मान सम्मान दे. इससे आपसी प्रेम बना रहेगा और बंटवारा नहीं होगा.

4. काम का सही बंटवारा:

कई बार ये भी होता हैं कि घर में एक से अधिक बहू होती हैं और वे लोग आपस में घर के काम काज को लेकर झगड़ा करने लगते हैं. कोई ज्यादा काम करता हैं तो कोई कम कार्य करता हैं. इस स्थिति में आपको घर में काम का एक व्यवस्थित तरीके से बंटवारा कर लेना चाहिए. इससे आपके परिवार का बंटवारा नहीं होगा.

5. घर खर्च में पैसो का हिसाब किताब:

एक जॉइंट फैमिली में ये दिक्कत बड़ी होती हैं कि घर खर्च में बड़ा भाई कितना पैसा दे रहा हैं, छोटा वाला क्या दे रहा हैं और माता पिता कितना योगदान कर रहे हैं. इस स्थिति से निपटने के लिए आप लोग सभी खर्चों की एक लिस्ट बना ले और फिर उसे बराबर हिस्सों में बाँट दे. इससे पैसो की वजह से लड़ाई झगड़े नहीं होंगे. हालाँकि यदि किसी ने थोड़ा ज्यादा या कम खर्चा किया भी तो इसका लोड नहीं लेना चाहिए. आखिर हैं तो वे सभी आपके अपने ही.