अयोध्या में नहीं तो क्या पाकिस्तान में बनेगा राम मंदिर: गिरिराज सिंह!

चुनाव आते ही भाजपा के नेताओ को राम याद आने लगते हैं. यूपी चुनाव की बढ़ती सरगर्मियों के बीच भाजपा एक बार फिर से राम मंदिर के मुद्दे की और लौटती नजर आ रही है. पार्टी के घोषणा पत्र में संवैधानिक तरीके से अयोध्या में राम मंदिर बनाने के ऐलान के बाद अब भाजपा के नेता भी खुले तौर पर इस मुद्दे को उठा रहे हैं. कभी विनय कटियार राम मंदिर की बात करते हैं तो कभी केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को राम की याद आती है, बिहार से बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह ने सोमवार को कहा कि राम मंदिर कब और कैसे बनेगा, यह तो वक्त बताएगा लेकिन राम मंदिर भारत में नहीं बनेगा, अयोध्या में नहीं बनेगा तो क्या पाकिस्तान में बनेगा?

पहले भी बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा था :

पहले बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा था कि जिस तरह से ढांचा गिरा था उसी तरह से मंदिर बनना चाहिए. अब इसी बात को केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने आगे बढ़ाया है. गिरिराज सिंह ने कहा, ”राम केवल भारत में सिर्फ राजनीतिक दलों के राम नहीं है. राम भारत के करोड़ों लोगों के दिलों में बसते हैं, इसलिए राम को चुनाव से जोड़ना गलत है. राममंदिर के निर्माण के लिए करोडों लोग लालायित हैं. ”

राम मंदिर का मुद्दा भाजपा और उत्तर प्रदेश के लिए नया नहीं है. इससे पहले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य और सांसद योगी आदित्यनाथ भी मंदिर राग अलाप चुके हैं. केशव प्रसाद मौर्य ने कहा था कि अगर भाजपा यूपी में सत्ता में आई तो अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण किया जाएगा. हालांकि बाद में अपने बयान से पलटते हुए केशव ने कहा कि मैंने इस तरह का कोई बयान नहीं दिया है. मैंने जो कुछ भी कहा, उसे गलत ढंग से पेश किया गया है.

आपको बता दें कि भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में कहा है कि यूपी में सरकार बनने पर पार्टी संवैधानिक तरीके से राम मंदिर बनाने का प्रयास करती रहेगी. इससे पहले 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी पार्टी की ओर से जारी घोषणा पत्र में राम मंदिर का मुद्दा उठाया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!