हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिंदी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल

मासूम बच्चियों के सीरियल किलर का सुराग होते हुये भी नहीं पकड़ पा रही गुडगांव पुलिस!

उत्तर भारत में साइबर सिटी के नाम से जाने जाने वाले शहर गुडगांव में लगातार हुई वारदातों ने पुलिस की नींद उड़ा रखी है, दरअसल यह मामला सीरियल किलिंग का है, बीते दिनों गुडगांव में कुछ ऐसे मामले सामने आये हैं जिससे सीरियल किलिंग की आशंका बढ़ गई है.

बीते 2 महीने में कई ऐसी वारदात हुई है जिसमें 3 से 10 साल तक की मासूम बच्चियों को शिकार बनाया गया है. वारदात को इसकदर अंजाम दिया गया है कि गुडगांव पुलिस सीरियल किलर की बात से इंकार नहीं कर सकती.

1. 

अबतक ऐसे चार मामले सामने आये हैं, पहला मामला 24 नवम्बर 2016 का है. साउथ सिटी मन्दिर से एक 4 साल की बच्ची का अपहरण हुआ था. जिसकी लाश दो महीने बाद मंदिर के ही पास पानी के एक गड्ढे में मिली, पोर्टमार्टम के बाद बात साफ हुई कि बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ और उसके बाद गला दबाकर उसकी हत्या की गई.

2.

इसके बाद सदर बाजार इलाके से 24 दिसम्बर 2016 को एक बच्ची का अपहरण हुआ जिसका अभी तक कुछ पता नही चल पाया है, पुलिस अभी भी तफ्तीश कर रही है. इस बच्ची के साथ भी अनहोनी होने की आशंका से परिजन परेशान हैं.

3. 

इन दोनों के अलावा एक मामला है 5 जनवरी 2017 का, सिविल लाइन्स इलाके में कैबिनेट मंत्री राव नबीर सिंह के घर के पास एक 7 साल की बच्ची का अपहरण हुआ, जिसका शव 25 जनवरी 2017 को गुरु द्रोणाचार्य पार्क की पानी की टंकी में मिला. फ़िलहाल बच्ची की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अभी तक नहीं आई है.

4. 

वहीँ चौथा मामला हाल ही में 15 जनवरी 2017 का है, 10 साल की एक बच्ची गुडगांव स्टेडियम से लापता हो गई, मामले की जाँच के बाद 23 जनवरी को बच्ची का शव सरस्वती कुंज सोसाइटी में बनी पानी को होदी से मिला, प्राथमिक जाँच में इस बच्ची की मौत का कारण भी दुष्कर्म के बाद हत्या सामने आया है.

इन चारों मामलों के कारण गुडगांव पुलिस की नींद उड़ी हुई है साथ ही पूरे शहर में सनसनी फैली हुई है, इन सभी मामलों में कुछ समानतायें हैं जो इसबात को पुख्ता करती हैं कि ये घटनाएँ किसी सीरियल किलर द्वारा अंजाम दी जा रही हैं.

वहीं हरियाणा की सबसे हाईटेक पुलिस मानी जाने वाली गुडगांव पुलिस भी इस मामले में अभी तक कुछ नहीं कर पाई है. वैसे एक सीसीटीवी फुटेज पुलिस को मिली है जिसमें एक संदिग्ध व्यक्ति पर शक की सुई अटक रही है, बावजूद उसके पुलिस उसका पता तक नहीं लगा पा रही है, मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म कर उनकी हत्या करने वाला शातिर हत्यारा खुलेआम गुडगांव की सड़कों पर घूम रहा है.

loading...