ब्रेकिंग न्यूज़

सेना प्रमुख ने कहा, सोशल मीडिया पर शिकायत करने वालों का ये होगा अंजाम!

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने पाकिस्तान और चीन को चेताते हुये कहा कि ‘हम दोस्ती का हाथ बढ़ाना चाहते हैं लेकिन शांति भंग करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करना भी जानते हैं, उन्‍होंने कहा कि मुझे यकीन है की हमारे प्रतिद्वंदी हमारी ताकत को पहचानते हैं. और वो ये भी जानते हैं कि हम किसी भी समय कहीं भी जाकर कार्रवाई करने की क्षमता रखते हैं, कुछ लोग हिंसा का सहारा ले रहे हैं हम उनके खिलाफ ऑपरेशन चलाते रहेंगे.

ये पंक्तियाँ सेना प्रमुख बिपिन रावत की हैं, वो सेना दिवस के मौके पर दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में बोल रहे थे. कार्यक्रम में उन्होंने ड्यूटी पर वीरता दिखाने वाले सैनिकों को सम्मानित भी किया, उन्होंने जिन सैनिकों को सम्मानित किया उनमें लांस नायक हनुमंथप्पा भी शामिल थे. उन्होंने हनुमंथप्पा की पत्नी को सम्मानित किया.

सेना दिवस के अवसर पर बिपिन रावत ने सोशल मीडिया पर पैरा-मिलिट्री फोर्सेज के जवानों के वीडियो का भी जिक्र किया उन्होंने कहा कि ‘हाल ही में हमारे कुछ साथी सोशल मीडिया के जरिये अपनी शिकायतें मीडिया के सामने पेश कर रहे हैं. इसका असर सेना के वीर जवानों पर पड़ता है. उनको प्रेरित करके उनकी हौंसला अफ़ज़ाई करने की ज़रुरत है.’

मुझसे आकर करें शिकायत-

उन्होंने कहा ‘अगर आपको कोई शिकायत है और आप कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं, तो सीधे मुझसे संपर्क कर सकते हैं’. सेना प्रमुख बिपिन रावत ने सोशल मीडिया के जरिये शिकायत करने वाले जवानों को चेतावनी भी दी उन्होंने कहा कि ‘उन जवानों ने जो किया है उसके लिए वे सजा के हक़दार भी हो सकते हैं’.

सीज़ फायर उल्लंघन पर देंगे मुंहतोड़ जवाब –

सेना प्रमुख ने कहा कि हम नियंत्रण रेखा पर शांति कायम करना चाहते हैं. लेकिन सीज़फायर के उल्लंघन जैसी किसी भी उत्तेजक हरकत का मुहतोड़ जवाब देने से कभी पीछे नहीं हटेंगे.

वो बोले कि भारत चीन से सटे सीमावर्ती क्षेत्रों में भी शांति चाहता है, और इसके लिये चीन की सीमा पर सेना की तरफ से कारगर कॉन्फिडेंस बिल्डिंग मेजर्स अपनाए जा रहे हैं. हम हर वो कदम उठा रहे हैं, जिससे एलओसी पर पैदा होने वाली हर स्थिति का समाधान निकाला जा सके.

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close