इन वजहों से होता है स्मार्टफोन में ब्लास्ट, कहीं आप भी तो नहीं करतें ये गलतियां भूलकर भी अपने स्मार्टफोन का इस तरह से ना करें इस्तेमाल, नहीं तो हो जाएगा उसमें ब्लास्ट

आजकल लगभग हर किसी के पास स्मार्टफोन होता है और लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल खूब किया करते हैं। लेकिन कई बार ये स्मार्टफोन आपके लिए जानलेवा साबित हो जाते हैं। आप लोगों ने कई सारी ऐसी खबरें सुनी होंगी जिनमें स्मार्टफोन के फट जाने से इंसान की मौत हो जाती है। दरअसल स्मार्टफोन का अगर सही से ध्यान ना रखा जाए और इसको गलत तरह से इस्तेमाल किया जाए, तो इसमें विस्फोट हो सकता है। ये बेहद ही जरूरी होता है कि जो लोग स्मार्टफोन का प्रयोग करते हैं वो इस फोन के साथ कई सारी सावधानी बरतें। किसी भी स्मार्टफोन में कई सारे कारणों से ब्लास्ट हो सकता है और इन्हीं कारणों के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। ताकि आप अपने फोन को इस्तेमाल करते समय कोई ऐसी गलती ना करें जिससे उसमें ब्लास्ट हो जाए।

नकली चार्जर का इस्तेमाल करना

स्मार्टफोन में ब्लास्ट होने के जो अधिकतर मामले सामने आते हैं वो इसकी चार्जिंग से जुड़े होते हैं हैं। किसी भी फोन में जो ब्लास्ट होता है वो उसकी बैटरी के कारण ही होता है। अक्सर कई लोग अपने फोन को चार्ज करने के लिए सस्ते वाले चार्जर खरीद लेते हैं जो कि फोन की बैटरी के लिए सही साबित नहीं होते हैं और इन चार्जर की वजह से फोन की बैटरी पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए आप अपने स्मार्टफोन को केवल ओरिजनल चार्जर से ही चार्ज करें।

चार्जिंग के दौरान फोन का इस्तेमाल

जब आप अपने फोन को चार्जिंग पर लगाते हैं तो वो गर्म हो जाता है और इसी दौरान अगर आप उसपर बात करते हैं तो फोन की बैटेरी पर और जोर पड़ता है। जिससे वो ओवरहीटिंग होने लगता है। ओवरहीट होने से फोन में ब्लास्ट होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए जब भी आप अपने फोन को चार्ज करें तो फोन का प्रयोग ना करें।

पूरी रात फोन चार्ज करना

कई लोग दिनभर फोन का इस्तेमाल करने के बाद उसे रात के समय चार्जिंग पर लगाकर छोड़ देते हैं और सुबह जाकर उसकी चार्जिंग को बंद करते हैं। जो कि एकदम गलत है। क्योंकि कोई भी फोन चार घंटे से अंदर पूरी तरह से चार्ज हो जाता है और पूरा चार्ज होने के बाद भी उसे चार्जिंग पर लगाने से बैटरी खराब हो जाती है।

धूप में रखना

फोन का गर्म होने सही नहीं माना जाता है और इसलिए कहा जाता है कि अगर आपका फोन अधिक गर्म रहता है तो आप उस बदल लें। क्योंकि फोन के अधिक गर्म होने से उसकी बैटरी फट सकती है। वहीं जब आप अपने फोन को धूम में रखते हैं तो वो सूरज की किरणों से भी ओवरहीट हो जाता है। जिससे फोन के फटने का खतरा बढ़ जाता है।

एक साथ कई एप्स खोलना

फोन में आप जब एक साथ कई सारी एप्स खोलते हैं तो इससे भी फोन गर्म हो जाता है। इसलिए आप जब भी अपने फोन में कोई एप खोलें तो उसको  बंद करने के बाद किसी अन्य एप को ओपन करें। जीपीएस नेविगेशन और गूगल मैप्स जैसी लोकेशन वाली एप से ही फोन ज्यादा ओवरहीट होता है।